भक्ति रा मार्ग झीना रे संतो राजस्थानी चेतावनी भजन लिरिक्स | भक्ति रा मार्ग झीना रे संतो भजन लिरिक्स

भगती रा मारग झीणा, रे संतों,भगती रा मारग झीणा।थोड़ो समझ नी, थोड़ो समझ नी,थोड़ी समझ पकड़, मन सुआ,कबीर केवे भगती रा मारग झीणा। एक नर बामण, दोय नर बामण,बामण घणां…

Continue Reading भक्ति रा मार्ग झीना रे संतो राजस्थानी चेतावनी भजन लिरिक्स | भक्ति रा मार्ग झीना रे संतो भजन लिरिक्स

कबीर केवे भगती रा मारग झीणा।

अरे एक नर मुस्लिम दोय नर मुस्लिम,मुस्लिम घणा घणा हुआ।अल्लाह खुदा री खबर नी जानी,गोडा रगड़ ने मुआ।कबीर केवे भगती रा मारग झीणा।थोड़ी समझ पकड़, मन सुआ,कबीर केवे भगती रा…

Continue Reading कबीर केवे भगती रा मारग झीणा।

भली करी गुरु दाता भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।प्रथम गुरु महाराज को तो, चरण निवावूँ शीश।हाथ जोड़ विनती करूँ, गुरु ज्ञान करो बख्शीस। भली करी गुरु दाता ,जिव राख्यो चौरासी में जाता।भूलू नहीं लाखो बाता ,म्हारे…

Continue Reading भली करी गुरु दाता भजन लिरिक्स

संत मिले उपदेशी भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।गुरु बिन ज्ञान न उपजै,गुरु बिन मिलै न मोष।गुरु बिन लखै न सत्य को,गुरु बिन मिटे न दोष। सतगुरु आया ने रिद्धि सिद्धि लाया ,निर्भय नाम सुनाया ।संत…

Continue Reading संत मिले उपदेशी भजन लिरिक्स