आज री सत्संग में थाने आवणो पड़ेला Bhajan Hindi Lyrics

आवणो पड़ेला सतगुरु , आवणो पड़ेला ।
आजरी सतसंग में थाने , आवणो पड़ेला ॥

पहला जुगां में ,राजा प्रहलाद आया ।
पाँच करोड़ ,तपसी तारणा पड़ेला ।।
आजरी जागन में थाने , आवणो पड़ेला ॥
आवणो पड़ेला। ……

दूजा जुगां में ,राजा हरीचन्द आया ।
सात करोड़ ,तपसी तारणा पड़ेला ॥
आजरी जागन में थाने , आवणो पड़ेला ॥
आवणो पड़ेला। ……

तीजारे जुगां में ,राजा जेठल आया ।
नव रे करोड़ ,तपसी तारणा पड़ेला ।
आजरी जागन में थाने , आवणो पड़ेला ॥
आवणो पड़ेला। ……

चौथा जुगां में ,राजा बलिचन्द आया ।
बारह करोड़ ,तपसी तारणा पड़ेला ।
आजरी जागन में थाने , आवणो पड़ेला ॥
आवणो पड़ेला। ……

चार जुगोंरा ,मंगळ रूपां दे जीगावे
थाळी माँहि ,बाग लगावणो पड़ेला ॥
आजरी जागन में थाने , आवणो पड़ेला ॥
आवणो पड़ेला। ……

shyam paliwal ke bhajan. satguru bhajan video
भजन :- आवणो पड़ेला सतगुरु
गायक :- श्याम पालीवाल

Leave a Reply