इंदर राजा म्हारी अर्जी साम्भलो जी भजन लिरिक्स

। दोहा ।।
्री रामदेव रक्षा करो, हरो संकट संताप।
सुखकर्ता समरथ धणी, जपु निरंतर जाप।

इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भजी ,
आप आया सबरा कारज सरे रे।
गाया वाली बेल पधारो पीर रामा जी।

ज्येठ महीने पवन घणो गाजे जी,
पड़े रे तावड़ो भोम तपे रे।
सात सायरियो रा नीर सुखोना जी,
नव खंड में झनकार पड़े रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

आषाढ़ महीने अलख धारी आया जी,
करषा हुया उबा खरे मते रे।
धोरे धोरे मोट बाजरी जी,
गेले गेले ज्वार खडेे रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

सावन महीना में घेरो घेरो गाजे जी,
सूखा सरवर फेर भरे रे।
दादुर मोर पपैया बोले जी,
आठो पोर आवाज करे रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

भाद्रवे में घनी कर आवो जी,
मूसलाधार मेह बरसे रे।
नदी नाला बेडा बेर सौगुणा जी,
गाया ऊबी घास चरे रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

आषोज महीने पीरा अम्रत मेहुडा हो जी,
अमी रे फुआरो री चाट पडे रे।
सीप रे सायरीयो मे मोतीडा नीपजे हो जी,
समुन्द्र जाये सगाल करे रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

काती रे महीने पीरा लोह लावनी हो जी,
आये शतक उपर हाथ धरे रे।
अन धन हुआ पीरजी सौगुणा हो जी,
कण सु मारा कोठार भरे रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

हरजी आज रामा पीर पधारिया जी,
लीले चढने बाबो हिस करे रे।
हरी शरणे भाटी हरजी यू बोले जी,
भव तपीया भगवान मिले रे।
इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।

इंद्र राजा मारी अर्ज साम्भलो जी।
आप आया सबरा कारज सरे रे ,
गाया वाली बेल पधारो पीर रामा जी।

prakash mali rajasthani bhajan video music song

इंदर राजा म्हारी अर्जी साम्भलो जी भजन, inder raja mari arji sambhalo baba ramdevji ke bhajan lyrics in hindi
रामदेव बाबा भजन in hindi lyrics
भजन :- इंदर राजा म्हारी अर्ज साम्भलो जी
गायक :- प्रकाश माली

Leave a Reply