ऐसी भक्ति कोई मत कीजिये भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
गुरुमूर्ति मुख चन्द्रमा , सेवक नैन चकोर ।
अष्ट प्रहर निरखत रहूं , गुरु चरणन की ओर ।

ऐसी भगती नहीं कीजिए ,
जग में होवे हाँसी ।
अंत काल जम मारसी ,
गले में देदे फाँसी ।

बुगला बायर ऊजळा ,
भीतर कपटाई ।
आँख मींच मुनिजन भया ,
मछियाँ गटकाई ॥
ऐसी भगती। ….

मिणजारी सुण कथा ,
झूठा भारत कीना ।
कर से दीपक डार के ,
मूषा गर लीना ॥
ऐसी भगती। ….

जैसे लाखा पिघळे ,
पावक रे संगा ।
छिन एक दूर वो ले चले ,
होवे वज्र अंगा ॥
ऐसी भगती। ….

जैसे कुंजर जळ बसे ,
जळ वस्ती पूरा ।
जळ से बाहर नीकले ,
सिर लगावे धूरा ॥
ऐसी भगती। ….

केवे कबीरसा धर्मीदास ने ,
पाँचों से लड़िये ।
इण जुगड़े रे माँयने ,
जीवत ही मरिये ॥
ऐसी भगती। ….

sant baba haridas ke bhajan Video

ऐसी भक्ति कोई मत कीजिये aisi bhakti nahi kijiye , sant baba haridas ke bhajan, चेतावनी भजन लिरिक्स, marwadi bhajan songs
भजन :- ऐसी भगती नहीं कीजिए
गायक :- संत हरिदास जी महाराज

Leave a Reply