ओ श्याम खाटू वाले गिरतो को तू संभाले भजन लिरिक्स

श्याम खाटू वाले,
गिरतो को तू संभाले।

दोहा – हारकर बाबा तेरे,
द्वार पर मैं आया हूँ,
बड़ा बेबस हूँ प्रभु,
दुनिया का सताया हूँ,
अब तो मरहम लगा,
मेरे श्याम मेरे जख्मो पर,
सच कह रहा हूँ,
चोंट बहुत खाया हूँ।

ओ श्याम खाटू वाले,
गिरतो को तू संभाले,
गिरतो को तू संभाले,
हारे के सहारे श्याम आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
नीले चढ़ श्याम मेरे आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
ओ श्याम खाटू वाले।।

तकलीफों के श्याम भंवर में,
नाव मेरी ना चलती है,
जितना भी मैं इसको सम्भालूँ,
हाथों से उतना फिसलती है,
सबके प्यारे श्याम हमारे,
खेवनहारे आ जाओ,
बिन माझी के नाव चले ना,
आकर पार लगा जाओ,
तुम हो दाता श्याम हमारे,
तुम ही हो हारे के सहारे,
सांसो की डोरी टूट ना जाए,
धीरज श्याम बंधा जाओ,
हारे के सहारें श्याम आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
नीले चढ़ श्याम मेरे आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
ओ श्याम खाटू वाले।।

तुमसे शिकायत तुमसे मोहब्बत,
तेरी इबादत करता हूँ,
पर दो पल की रोजी के चलते,
मारा मारा फिरता हूँ,
दीनानाथ थामलो हाथ,
तुम पर बड़ा भरोसा है,
चाहत में है तेरी वफाएं,
मिले कभी ना धोखा है,
हार के जो भी मिलने आए,
उसकी बिगड़ी श्याम बनाएं,
माँ से किया जो वादा तुमने,
आ के श्याम निभा जाओ,
हारे के सहारें श्याम आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
नीले चढ़ श्याम मेरे आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
ओ श्याम खाटू वाले।।

शीश के दानी ओ वरदानी,
अरजी मेरी स्वीकार करो,
तेरी रहमत की हो बारिश,
नजरे करम एक बार करो,
मैं हूँ आया शरण तिहारी,
मुझ पर अपना हाथ धरो,
हर जर्रे में जान तुम्हारी,
‘आशु’ पर उपकार करो,
बैरन दुनिया मुझको सताए,
मेरी बिगड़ी कौन बनाए,
दूर ना जाओ साथ निभाओ,
आके गले लगा जाओ,
हारे के सहारें श्याम आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
नीले चढ़ श्याम मेरे आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
ओ श्याम खाटू वाले।।

ओ श्याम खाटु वाले,
गिरतो को तू संभाले,
गिरतो को तू संभाले,
हारे के सहारे श्याम आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
नीले चढ़ श्याम मेरे आ जाओ,
मोरछड़ी प्यारे लहरा जाओ,
ओ श्याम खाटू वाले।।

https://www.youtube.com/watch?v=VAlCrGJIwR0

Leave a Reply