कन्हैया तेरी मेहरबानी रहे भजन लिरिक्स

कन्हैया तेरी मेहरबानी रहे,
जब तलक ये मेरी जिंदगानी रहे,
जिंदगानी रहे,
कन्हैया ओ कन्हैया,
कन्हैया ओ कन्हैया।।

हम गरीबों का तू है सहारा,
वर्ना साथी है कौन हमारा,
बदले सारा जहान,
ये जमीं आसमा,
प्रीत अपनी तो वो ही पुरानी रहे,
पुरानी रहे,
कन्हैया ओ कन्हैया,
कन्हैया ओ कन्हैया।।

हर करम तेरी खातिर किए है,
हर कदम मेरा तेरे लिए है,
मैं रहूँ ना रहूँ,
तुमसे इतना कहूँ,
सबके होंठों पे अपनी कहानी रहे,
कहानी रहे,
कन्हैया ओ कन्हैया,
कन्हैया ओ कन्हैया।।

भूल से ही हमें याद कर लो,
हमसे बनवारी कुछ बात करलो,
और कुछ ना करो,
इतना तो करो,
पास मेरे तुम्हारी निशानी रहे,
निशानी रहे,
कन्हैया ओ कन्हैया,
कन्हैया ओ कन्हैया।।

कन्हैया तेरी मेहरबानी रहे,
जब तलक ये मेरी जिंदगानी रहे,
जिंदगानी रहे,
कन्हैया ओ कन्हैया,
कन्हैया ओ कन्हैया।।

कृष्ण भजन कन्हैया तेरी मेहरबानी रहे भजन लिरिक्स
तर्ज – गंगा मैया में जब तक ये पानी।

Leave a Reply