कान्हा आया रे आया ब्रज में बाजे आज बधाई

कान्हा आया रे आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई,
बाजे आज बधाई ब्रज में,
नाचे लोग लुगाई,
कान्हा आया रें आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई।।

सजी हुई ब्रज की सब गलियाँ,
सजे हुए चोबारे,
नोबत बज रही है सजनी,
नोबत बज रही है सजनी,
नन्द बाबा द्वारे,
खुशियाँ लाया रे लाया,
ब्रज में बाजे आज बधाई,
कान्हा आया रें आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई।।

साँवरिया की मोटी मोटी,
अखियाँ है कजरारी,
करूँणा सागर की सुरतियाँ,
करूँणा सागर की सुरतियाँ,
लागे प्यारी प्यारी,
मन को आया आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई,
कान्हा आया रें आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई।।

आंनद भये ब्रज वासी,
गावे आज बधाई,
जुग जुग जीवै मात यशोदा,
तेरो कुंवर कन्हाई,
आंनद छाया रे छाया,
ब्रज में बाजे आज बधाई,
कान्हा आया रें आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई।।

खूब लुटाये हिरा मोती,
खूब लुटाया सोना,
नन्द भवन में धूम मची है,
आया श्याम सलोना,
मैंने पाया रे पाया,
ब्रज में बाजे आज बधाई,
कान्हा आया रें आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई।।

कान्हा आया रे आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई,
बाजे आज बधाई ब्रज में,
नाचे लोग लुगाई,
कान्हा आया रें आया,
ब्रज में बाजे आज बधाई।।

कृष्ण भजन कान्हा आया रे आया ब्रज में बाजे आज बधाई

Leave a Reply