कारीगर मत ना भटके रे भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
दौड़ सके तो दौड़ ले , जब लग तेरी दौड़ ।
दौड़ थकी धोखा मिट्या , वस्तु ठौड़ की ठौड़ ।

कारीगर मत ना भटके रे ,
मुसाफिर तू क्यूं भटके रे ।
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ।

कारीगर पथर घड़े ,
पथर में पायो छेद ।
छेद माँहि कीड़ो जीवतो रे ,
नहीं जीवण री उम्मीद ।
के मुख माँहि दाणो लटके रे ,
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ।
कारीगर मत ना । …..

कारीगर किरतार ने रे ,
भाई करवा लागो याद ।
दौड़ बुढापो आवियो रे ,
कदे नहीं भजियो राम
भरोसे बैठो डटके रे ,
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ।
कारीगर मत ना । …..

जंगळ में मंगळ भया रे ,
चरू मिल्या जमीं दोय ।
भगत केवे भगवान ने रे ,
बांधे क्यूं नहीं पोट ।
घरे म्हारे क्यूं नहीं पटके रे ,
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ॥
कारीगर मत ना । …..

चोरां ने चरचा सुणी भाई ,
लीना चरू निकाळ ।
कर्म हीन धन कैसे पावे ,
धन का हो गया प्याळ ।
बात चोरां ने खटके रे ,
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ।।
कारीगर मत ना । …..

चोरां चरू निकाळिया ,
अरे लीना ढकण लगाय ।
जा पटको उण दुश्मण पर रे ,
काळ उसी को खाय ।
दुश्मण मर जावे झटके रे ,
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ॥
कारीगर मत ना । …..

चोर चढ्या छत ऊपरे ,
लीना छपर उगाड़ ।
माधो कहे धन देवे दाता ,
देवे छप्पर फाड़ ।
कारीगर गिणले झटके रे ,
कर मालिक ने याद काम थारो ,
कदे नी अटके रे ॥
कारीगर मत ना । …..

rajkumar swami ke bhajan Video

कारीगर मत ना भटके रे karigar mat na bhatke re lyrics, rajkumar swami ke bhajan, chetawani bhajan, marwadi desi bhajan
भजन :- कारीगर मत ना भटके रे
गायक :- राजकुमार स्वामी

Leave a Reply