कोरोना की विदाई तेरे घर रहने में है गीत लिरिक्स

कोरोना की विदाई,
तेरे घर रहने में है,
तेरे अपनों की भलाई,
तेरे घर रहने में है,
कोरोना की विदाईं,
तेरे घर रहने में है।।

तू अभी घर से नहीं,
बाहर निकल,
तेरे सपनों की सच्चाई,
तेरे घर रहने में है,
कोरोना की विदाईं,
तेरे घर रहने में है।।

संक्रमित होने में लगता,
एक पल,
सारे जीवन की कमाई,
तेरे घर रहने में है,
कोरोना की विदाईं,
तेरे घर रहने में है।।

कोरोना की विदाई,
तेरे घर रहने में है,
तेरे अपनों की भलाई,
तेरे घर रहने में है,
कोरोना की विदाईं,
तेरे घर रहने में है।।

Leave a Reply