क्या भरोसा है इस जिंदगी का भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
कबीरा खड़ा बाजार में ,सब की मांगे खेर।
ना कहु से दोस्ती , ना कहु से बेर।

क्या भरोसा है इस ज़िंदगी का ,
साथ देती नहीं यह किसी का।

सांस रुक जाएगी चलते चलते,
शमा बुज जाएगी जलते जलते।
दम निकल जायेगा रौशनी का।
क्या भरोसा है इस ज़िंदगी का।

हम रहे ना महोबत रहेगी,
दास्ताँ अपनी दुनिया कहेगी ।
नाम रह जाएगा आदमी का।
क्या भरोसा है इस ज़िंदगी का।

दुनिया इक हकीकत पुरानी,
चलते रहना है उसकी रवानी।
फर्ज पूरा करो बंदगी का।
क्या भरोसा है इस ज़िंदगी का।

sunita swami bhajan lyrics

क्या भरोसा है इस जिंदगी का भजन kya bharosa hai is jindagi ka chetawani bhajan lyrics in hindi
मारवाड़ी देसी भजन हिंदी में
भजन :- क्या भरोसा है इस जिंदगी का
गायिका :- सुनीता स्वामी

This Post Has One Comment

Leave a Reply