खुद से भी ज्यादा है तुम पे विश्वास सांवरे भजन लिरिक्स

खुद से भी ज्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे,
तुम ही पूरी करोगे,
मेरी आस सांवरे,
खुद से भी ज़्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे।।

जीते को तो सब है जिताते,
हारे को बस तू ही जिताता,
जिस पे सितम ये दुनिया ढाये,
उसको गले से तू ही लगाता,
अपने भगत को तू ही निभाता,
खुद से भी ज़्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे,
तुम ही पूरी करोगे,
मेरी आस सांवरे।।

सोचे अगर जो तेरे बिना क्या,
तेरे भगत की जग में हस्ती,
इतना दिया है प्यार जो तुमने,
खुशियां भी अब लगती सस्ती,
चलती है बिना पानी के कश्ती,
खुद से भी ज़्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे,
तुम ही पूरी करोगे,
मेरी आस सांवरे।।

तुम्हारा सहारा जीवन बदला,
जीवन बदला श्याम हमारा,
काम अधूरे पुरे हुए हैं,
दुनिया में अब नाम हमारा,
‘मोहित’ तुम्हारी महिमा गाता,
खुद से भी ज़्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे,
तुम ही पूरी करोगे,
मेरी आस सांवरे।।

खुद से भी ज्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे,
तुम ही पूरी करोगे,
मेरी आस सांवरे,
खुद से भी ज़्यादा है,
तुम पे विश्वास सांवरे।।

Leave a Reply