गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे भजन लिरिक्स

गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे,
जय होवे तेरी जय होवे,
जय होवे तेरी जय होवे,
गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे।।

जगमग जगमग करता मंदर,
जगमग जगमग करता मंदर,
रहते हो प्रभु जिसके अंदर,
रूप है तेरा विशाल,
तेरी जय होवे,
गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे।।

ब्रम्हा विष्णु और शिव शंकर,
ब्रम्हा विष्णु और शिव शंकर,
आते है दरबार में चलकर,
पुरे करते सवाल,
तेरी जय होवे,
गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे।।

मंदिरो में तेरा बसेरा,
मंदिरो में तेरा बसेरा,
धरती अम्बर सब है तेरा,
कहता ‘बाबूलाल’,
तेरी जय होवे,
गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे।।

खजराना के गणपति प्यारे,
खजराना के गणपति प्यारे,
पुरण काज करो अब सारे,
करते बेडा पार,
तेरी जय होवे,
गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे।।

गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे,
जय होवे तेरी जय होवे,
जय होवे तेरी जय होवे,
गौरा माँ के लाल तेरी जय होवे।।

Leave a Reply