चाहे खुशी हो गम हो मुझे सांवरा नजर आए भजन लिरिक्स

कृष्ण भजन चाहे खुी हो गम हो मुझे सांवरा नजर आए भजन िरिक्स
तर्ज – ये दुआ है मेरी रब से
स्वर – कुमार दीपक।

चाहे खुशी हो गम हो,
आँखें ये जब भी नम हो,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
मन भी हो जब ये घायल,
सर पर हो काले बादल,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
चाहें खुशी हो गम हो।।

परेशान मन ये जब भी,
हैरान होके डोले,
खामोश लब ये आंखें,
सारा भेद खोले,
मजधार में हो नैया,
कोई ना हो खिवैया,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
चाहें खुशी हो गम हो।।

मेरा श्याम पे भरोसा,
मजबूत हो गया है,
तन मन ये सारा जीवन,
इनका ही हो गया है,
हो खिलाफ जब फिजाएं,
अंजान जब हो राहे,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
चाहें खुशी हो गम हो।।

मेरे श्याम ने सवारी,
तकदीर ये हमारी,
‘मोहित’ पे अब चढ़ी है,
इनकी खुमारी,
माया में जब मैं भटकू,
रिश्तो में जब भी अटकू,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
चाहें खुशी हो गम हो।।

चाहे खुशी हो गम हो,
आँखें ये जब भी नम हो,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
मन भी हो जब ये घायल,
सर पर हो काले बादल,
मुझे सांवरा नजर आए,
मेरा सांवरा नजर आए,
चाहें खुशी हो गम हो।।

Leave a Reply