जग में नींद नी लेवे नौ जना भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
तुलसी मीठे वचन से ,सुख उपजे चारो और।
वशीकरण एक मंत्र है , परिहरु वचन कठोर।

भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा पहलो नर वोही जाण ,
ज्यां घर बेटी कुवारी घर आंगणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा दूजो नर वोही जाण ,
ज्यां रे माथे करजा गणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा तीजो नर वोही जाण ,
ज्याके घर में धन गणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा चोथो चुकली खोर ,
ज्यारे रात दिन रेवे छीझणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा पांचो नर वोहो जाण ,
ज्याके बेरी दुश्मन होवे गणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा छट्ठो नर वोहो जाण ,
ज्याके तन मन माय रोग गणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा सातवो जोग जाण ,
मोजीडो रेवे धुनि तापणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा आठवो चतुर सुजाण ,
समझे और समझावणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

बीरा नव्वो नर वोही जाण ,
पर नारिया पर रिजणा।
भाई सुण ज्यो ध्यान लगाए ,
जग में नींद ने लेवे 9 जणा।

रामकुमार मालुनी के भजन वीडियो

जग में नींद नी लेवे नौ जना, jag me nind nahi leve no jana desi marwadi chetawani bhajan
जग में नींद नी लेवे नौ जना राजस्थानी चेतावनी भजन लिरिक्स hindi
भजन :- जग में नींद न लेवे नो जणा
गायक :- रामकुमार मालुणी

Leave a Reply