जिनके सिर पर श्याम प्यारे की दया का हाथ है भजन लिरिक्स

जिनके सिर पर श्याम प्यारे,
की दया का हाथ है,
हर घड़ी हर पल कन्हैया,
रहता उनके साथ है,
बोलो श्याम श्याम श्याम,
बोलो श्याम श्याम श्याम।।

देख ले दर्शक तुम्हे तो,
अपनी पलके खोल के,
श्याम के प्यारे मिलेंगे,
मस्तियों में झूमते,
हर तरफ खुशियां है इनकी,
फूलों की बरसात है,
हर घड़ी हर पल कन्हैया,
रहता उनके साथ है,
बोलो श्याम श्याम श्याम,
बोलो श्याम श्याम श्याम।।

कौन इतना दयालु,
देव मेरे श्याम सा,
हो इनायत जिनपे इनकी,
डर उसे किस बात का,
रात चाहे हो घनेरी,
इनकी तो प्रभात है,
हर घड़ी हर पल कन्हैया,
रहता उनके साथ है,
बोलो श्याम श्याम श्याम,
बोलो श्याम श्याम श्याम।।

प्रेम का रसिया कन्हैया,
प्रेम करके देख ले,
डूब जा तू श्याम रस में,
द्वार दिल के खोल ले,
प्रेमियों को ढूंढते है,
प्रेम की पहचान है,
हर घड़ी हर पल कन्हैया,
रहता उनके साथ है,
बोलो श्याम श्याम श्याम,
बोलो श्याम श्याम श्याम।।

प्रेमियों को श्याम प्यारे,
पे बड़ा ही नाज़ है,
कौन है किसका दीवाना,
ये पहेली राज है,
‘नंदू’ ऐसे देवता से,
हो मिलन बडी बात है,
हर घड़ी हर पल कन्हैया,
रहता उनके साथ है,
बोलो श्याम श्याम श्याम,
बोलो श्याम श्याम श्याम।।

जिनके सिर पर श्याम प्यारे,
की दया का हाथ है,
हर घड़ी हर पल कन्हैया,
रहता उनके साथ है,
बोलो श्याम श्याम श्याम,
बोलो श्याम श्याम श्याम।।

Leave a Reply