जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया भजन लिरिक्स | Jeevan Khatam Hua Toh Jeene Ka Dhang Aaya Bhajan Lyrics

जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया भजन लिरिक्स | Jeevan Khatam Hua Toh Jeene Ka Dhang Aaya Bhajan Lyrics

जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया

गाडी निकल गयी तो, घर से चला मुसाफिर
मायूस हाथ मलता वापिस बैरंग आया

मन की मशीनरी ने जब ठीक चलना सीखा
तब बूढ़े तन के हर इक पुर्जे में जंग आया

फुर्सत के वक़्त में ना सुमिरन का वक़्त निकला
उस वक़्त वक़्त माँगा जब वक़्त तंग आया

आयु ने नत्था सिंह जब हथियार फेंक डाले
यमराज फ़ौज लेकर करने को यंग आया

Video jeevan khatam hua to jeene ka dhang aaya

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply