जो कर्म कर रहे हो वहां सब हिसाब है भजन लिरिक्स

जो कर्म कर रहे हो,
वहां सब हिसाब है,
जैसा करोगे पाओगे,
सीधा जबाब है

जब आ गए संसार में,
ऊपर है तेरा हाथ,
अब जो करो उसका,
नही कोई दबाब है।।

तुम जैसे ही जवान थे,
ये भी कभी ‘फणी’,
हाथ में ाठी लिये,
ये जो जनाब है।।

जाओगे एक दिन जब,
उस रब के सामने,
कहने की ज़रूरत नही,
वहां सब रिकार्ड है।।

बाहर की छोड़ दीजिए,
अंदर की उन्हें पता,
पर्दा नही उनसे है कोई,
सब बेनकाब है।।

मर के भी नही मरता,
हो जाते अमर वो,
परमात्मा के भक्ति से,
जिसको लगाव है।।

जो कर्म कर रहे हो,
वहां सब हिसाब है,
जैसा करोगे पाओगे,
सीधा जबाब है।।

भजन जो कर्म कर रहे हो वहां सब हिसाब है भजन लिरिक्स

Leave a Reply