झुक गए बड़े बड़े सरदार तेरी मोर छड़ी के आगे लिरिक्स

झुक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
झूक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे

राजा को रंक बना दे,
निर्धन को सेठ बना दे,
झुक गए बड़े बड़े साहूकार,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
झूक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे।।

चाहे कोई आँख दिखाए,
चाहे कोई ान दिखाए,
टुटा अहंकार हर बार,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
झूक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे।।

चाहे कोई घात गाए,
चाहे प्रतिघात लगाए,
कट गई बडी बडी तलवार,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
झूक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे।।

‘सूरज’ तेरी महिमा गाए,
चरणों में शीश झुकाए,
झुक गया कलयुग में संसार,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
झूक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे।।

झुक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
तेरी मोर छड़ी के आगे,
झूक गए बड़े बड़े सरदार,
तेरी मोर छड़ी के आगे।।

Leave a Reply