डेडरिया छोड़ छिलरिये री आसा भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
प्रेम ना बड़ी उपजे ,प्रेम ना हाट बिकाय।
बिना प्रेम का मानवा ,बंधिया जम पुर जाय।

ओ तो छिलरियो घड़ी पलक रो ,
करदे समदर वासा।
डेडरिया, तज दे छिलरिये री आशा।

कागा बुगला सर्प बिलारा ,
करे तुम्हारी सांसा।
तू तो दौड़ मछिया रे लारे,
वे करे तुम्हारा विनाशा।
डेडरिया, तज दे छिलरिये री आशा।
ओ तो …..

डरु-डरू बोले, थब थब कूदे,
मन में गणा हुलासा।
सुन्दर काया थारी राख बणेला,
ऊपर उगे थारे घासा।
डेडरिया, तज दे छिलरिये री आशा।
ओ तो …..

बुगलो से डरणा, हंसो का संग करणा,
रहणा गुरुजी रे पासा।
इण रे छिलरिये में दुखड़ो घणेरो ,
भोगे भव री त्रासा।
डेडरिया, तज दे छिलरिये री आशा।
ओ तो …..

नित रो जनमणो, नित रो मरणो,
नित रा करे घर वासा।
नाथ विवेक तम दुख नाशे,
करो हिरदे प्रकाशा।
डेडरिया, तज दे छिलरिये री आशा
ओ तो …..

shyam vaishnav ke bhajan video

डेडरिया छोड़ छिलरिये री आसा , Dedariya Chhod Chilariye Ri Aasa, मारवाड़ी चेतावनी भजन लिरिक्स, chetawani bhajan lyrics in hindi, shyam vaishnav ke bhajan
मारवाड़ी चेतावनी भजन लिरिक्स
भजन :- तज दे छिलरिये री आशा
गायक :- श्याम वैष्णव

Leave a Reply