दिल्ली में दिखी रे भक्ता की टोलियां भजन लिरिक्स

दिल्ली में दिखी रे ,
भक्ता की टोळीया रे।
देमालिया में आवे रे,
देव का लाड लड़ावे रे।

कोई फुलड़ा लावे रे,
कोई माला लावे रे।
देवमालिया का देव धनि ने ,
आन मनावे रे।

कोई गाड़ी लावे रे ,
कोई पैदल आवे रे।
अरे देवधनि दरबार का ,
जयकारा लगावे रे।

भक्ता की टोळीया रे,
देमालिया चाली रे।
ऐ मेंदवास टोक मु ,
दौड़ी आवे रे।

ऐ ढोल बाजे रे ,
डीजे भारी बाजे रे
देवधनी के जाता ,
जातरी जोर नाचे रे।

मुंबई में दिखी रे ,
भक्ता की टोळीया रे।
देमालिया में आवे रे,
देव का लाड लड़ावे रे।

अरे गोकुल गावे रे ,
गोकुल शर्मा गावे रे।
ऐ राजस्थान म्यूजिक के ,
माई धूम माचवे रे

भीलवाड़ा दिखी रे ,
भक्ता की टोळीया रे।
देमालिया में आवे रे,
देव का लाड लड़ावे रे।

दिल्ली में दिखी रे भक्ता की टोलियां भजन लिरिक्स | rajasthani dj bhajan, gokul sharma bhajan, dilli me dikhi re

Leave a Reply