नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं देशभक्ति गीत लिरिक्स Deshbhakti Geet Lyrics

नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं देशभक्ति गीत लिरिक्स | Nanha Munna Rahi Hun Deshbhakti Geet Lyrics 15 August Deshbhakti Geet | 26 January Deshbhakti Geet | Deshbhakti Geet

नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं,
बोलो मेरे संग, जय हिन्द, जय हिन्द, जय हिन्द।
जय हिन्द, जय हिन्द।

नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं,
बोलो मेरे संग, जय हिन्द, जय हिन्द, जय हिन्द।
जय हिन्द, जय हिन्द।

रस्ते पे चलूंगा न डर-डर के,
चाहे मुझे जीना पड़े मर-मर के,
मंजिल से पहले न लूंगा कहीं दम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…

नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं,
बोलो मेरे संग, जय हिन्द, जय हिन्द, जय हिन्द।
जय हिन्द, जय हिन्द।

धूप में पसीना मैं बहाऊंगा जहां,
हरे-भरे खेत लहराएगें वहां,
धरती पे फाके न पाएगें जन्म,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…

नया है जमाना मेरी नई है डगर,
देश को बनाऊंगा मशीनों का नगर,
भारत किसी से रहेगा नही कम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…

बड़ा हो के देश का सहारा बनूंगा,
दुनिया की आंखों का तारा बनूंगा,
रखूंगा ऊंचा तिरंगा परचम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…

शांति की नगरी है मेरा ये वतन,
सबको सिखाऊंगा मैं प्यार का चलन,
दुनिया में गिरने न दूंगा कहीं बम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…

Lyrics in English

nanha munna rahi hoon, Desh Ka Sipahi hoon
Bolo Mere Sang, Jay hind, Jay hind, Jay hind
Jay hind, Jay hind

nanha munna rahi hoon, Desh Ka Sipahi hoon
Bolo Mere Sang, Jay hind, Jay hind, Jay hind
Jay hind, Jay hind

Raste Pe Chalunga na Dar-Dar Ke
Chahe Mujhe Jeena Pade Mar-Mar Ke
Manzil Se Pehle na Lunga kahin Dam
Aage Hi Aage Badhaunga Kadam
Dahine Baen Dahine Baen, Tham!
nanha munna rahi hoon……

Dhoop mein Pasina me Bahauga Jahan
Hare-Bhare Khet Lahraenge Vahan
Dharti Pe Fake na Paayenge Janam
Aage Hi Aage Badhaunga Kadam
Dahine Baen Dahine Baaen, Tham!
nanha munna rahi hoon……

naya Hai Zamana Meri nai Hai Dagar
Desh Ko Banaunga Mashino Ka nagar
Bharat Kisi Se Rahega nahi Kam
Aage Hi Aage Badhaunga Kadam
Dahine Baen Dahine Baen, Tham!
nanha munna rahi hoon……

Bada Ho Ke Desh Ka Sahara Banoongaa
Duniya Ki Aankhon Ka Taara Banoongaa
Rakhunga Uncha Tiranga paracham
Aage Hi Aage Badhaunga Kadam
Dahine Baen Dahine Baen, Tham!
nanha munna rahi hoon……

Shanti Ki nagari Hai Mera Ye Vatan
Sabako Sikhaunga Me Pyaar Ka Chalan
Duniya mein Girane na dunga kahin Bam
Aage Hi Aage Badhaunga Kadam
Dahine Baen Dahine Baen, Tham!
nanha munna rahi hoon……

 Video

Leave a Reply