पांव में घुंघरू बांध के नाचे जपे राम की माला भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
राम नाम की लूट है ,लूट सके तो लूट।
अंत काल पछतायेगा , जब प्राण जायेगा छूट।

पांव में घुंघरू बांध के नाचे ,
और जपे राम की माला।
हो बजरंग बाला ,
जय हो बजरंग बाला।

सिया राम ही राम पुकारे ,
हनुमत जाय असुर सब मारे।
सीता की सुध लेने खातिर ,
क्या से क्या कर डाला।
हो बजरंग बाला ,
जय हो बजरंग बाला।
पाँव में घुंगरू ….

ऋषि मुनियो ने ध्यान लगाया ,
तुजे जहा सिवरू वहा पाया।
मुझ पर कृपा करो बजरंगी ,
लाल लंगोटे वाला।
हो बजरंग बाला ,
जय हो बजरंग बाला।
पाँव में घुंगरू ….

तुजसा देव नहीं कोई दानी ,
तेरी महिमा ना जाए बखानी।
शांतिदास का तुम बजरंगी ,
रात दिन रखवाला।
हो बजरंग बाला ,
जय हो बजरंग बाला।

पाँव में घुंगरू बांध के नाचे ,
और जपे राम की माला।
हो बजरंग बाला ,
जय हो बजरंग बाला।

hanuman ji ke bhajan video

पांव में घुंघरू बांध के नाचे जपे राम की माला भजन paav me gunguru bandh ke naache raag bhairavi bhajan lyrics
पांव में घुंघरू बांध के नाचे जपे राम की माला भजन hindi lyrics हनुमान जी के भजन
भजन :- पांव में घुंघरू बांध के नाचे

Leave a Reply