प्रथम निमंत्रण आपको गजानंद सरकार भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
श्री गणेश कीजै कृपा, दीजिए हमे बुद्धि।
हम सेवक हो आपके, रहे देह की शुद्धि।

प्रथम निमंत्रण आपको ,
गजानंद सरकार।
मेरा कीर्तन सफल बना दो ,
करलो विनती स्वीकार।

सब देवों में सबसे पहले ,
होती तेरी ही पूजा
तीनों लोकों में नहीं देखा ,
देव तुम्हारे सा दूजा।
जल्दी जल्दी आ जाओ ,
हे मूसक के असवार।
प्रथम निमंत्रण आपको ….

निर्बल को बल देने वाले ,
देते कोडिन को काया।
यम कुबेर दिग्पालों ने भी ,
भेद तुम्हारा ना पाया।
तेरी तीन लोक में महिमा ,
गूंजे है जय जयकार।
प्रथम निमंत्रण आपको ….

रिद्धि और सिद्धि के दाता ,
आकर मान बढ़ा जाओ।
प्रेम भाव से करें प्रार्थना ,
आकर भोग लगा जाओ।
क्या सोच रहे मनमोजी ,
अब कैसा सोच विचार।

प्रथम निमंत्रण आपको ,
गजानंद सरकार।
मेरा कीर्तन सफल बना दो ,
करलो विनती स्वीकार।

gajanand ji ke bhajan lyrics

प्रथम निमंत्रण आपको गजानंद सरकार भजन लिरिक्स pratham nimantran aapko gajanand sarkar ganesh ji bhajan lyrics hindi

गणपति भजन लिरिक्स इन हिंदी प्रथम निमंत्रण आपको भजन :- प्रथम निमंत्रण आपको

Leave a Reply