प्रभु को गर भूलोगे बन्दे बाद बहुत पछताओगे लिरिक्स

प्रभु को गर भूलोगे बन्दे,
बाद बहुत पछताओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
प्रभु को गर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे।।

पैसे के खातिर तू बन्दे,
करता रहा हेरा फेरी,
घी में डालडा डालडा में घी,
करते नही तनिक देरी,
सुंदर वक़्त को कब तक बन्दे,
व्यर्थ में यू ही गवाओगे,
पैसे से बिस्तर लाओगे,
नींद कहा से लाओगे,
प्रभु को गर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे।।

साबुन से इस् तन को बन्दे,
धोता रहा तू मल मल के,
मन तो तेरा गंदा रह गया,
तीरथ करता चल चल के,
प्रभु शरण में नही गए तो,
बाद बहुत पछताओगे,
पैसे से गहना लाओगे,
रूप कहा से लाओगे,
प्रभु को गर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे।।

संगीत है शक्ति ईश्वर का,
इसका ही गुणगान करो,
मन को बांधो तन को साधो,
कभी नही अभिमान करो,
अगर साधना नही करोगे,
अंत समय पछताओगे,
पैसे से सरगम सीखोगे,
दर्द कहा से लाओगे,
प्रभु को गर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे।।

प्रभु को गर भूलोगे बन्दे,
बाद बहुत पछताओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
पैसे से भोजन लाओगे,
भूख कहा से लाओगे,
प्रभु को गर भूलोगे बंदे,
बाद बहुत पछताओगे।।

Leave a Reply