बंगला अजब बना महाराज जिसमें नारायण बोले भजन लिरिक्स

। दोहा ।।
ये तन विष की बे है , सतगुरु अमृत खान।
ीश दिया सतगुर मिले ,तो भी सस्ता जान।

बंगला अजब बना महाराज,
जिसमें नारायण बोले।
नारायण बोले ,
जिसमें परमेश्वर बोले।

इस बंगले के दस दरवाजा ,
बिच पवन का थम्भा।
आवत जावत कुछ नहीं दिखे ,
यही बड़ा अचम्भा।
बंगला अजब बना महाराज,
जिसमें नारायण बोले।

पांच तत्व की ईट बनाई ,
तीन गुणों का गारा।
छतीसो की छत बनाई ,
चेतन चिनन हारा।
बंगला अजब बना महाराज,
जिसमें नारायण बोले।

इस बँगले में चौपड़ माँडी,
खेले पाँच पचीसा।
कोर्ई तो बाजी हार चला है,
कोई चला जुग जीता।
बंगला अजब बना महाराज,
जिसमें नारायण बोले।

इस बँगले में पातर नाचे,
मनुवा ताल बजाये।
निरत सुरत के पहन घुँघरू,
राग छत्तीसों गाये।
बंगला अजब बना महाराज,
जिसमें नारायण बोले।

कहे ‘मछन्दर’ सुन ले गोरख,
जिन यह बँगला गाया।
इस बंगले का गाने वाला,
फेर जनम नहिं पाया।
बंगला अजब बना महाराज,
जिसमें नारायण बोले।

ladu nath yogi ke bhajan Music video Song

बंगला अजब बना महाराज जिसमें नारायण बोले भजन, bangla ajab bana maharaj hansla bhajan in hindi lyrics
चेतावनी भजन लिरिक्स इन हिंदी
भजन :- बंगाल अजब बना महाराज
गायक :- लादुनाथ योगी

Leave a Reply