बनो मारो चारभुजा रो नाथ लिरिक्स

बनो मारो चारभुजा रो नाथ,
बनी मारी तुलचा लाड़ली। २

विनायक रिध्धि सिद्धि संग लाया,
ओ विनायक
रसोड़े कुबेर भंडार बुलाया। २
गन्धर्व गीत गजब का गाय, …
बनो मारो चारभुजा रो नाथ,
बनी मारी तुलछा लाड़ली। २

हरे देव जी परसु देव हरसाया ,
यसोदा नन्द जी पाठ बिठाया। २
सूरा गीता जी जस गाय ।
बनो मारो चारभुजा रो नाथ,
बनी मारी तुलछा लाड़ली। २

बाराती शिव ब्रह्मा संग आया ओ ,
गरुड़ चढ़ लक्मी पति भी आया। २
रावत इंद्र चढ़ आया ।
बनो मारो चारभुजा रो नाथ,
बनी मारी तुलछा लाड़ली। २

बिहारी गुरु गोविन्द बन आया ,
चेतन मन का फूल बिछाया ,२
भागता मिल भगवत को सजाया।
बनो मारो चारभुजा रो नाथ,
बनी मारी तुलछा लाड़ली। २

बनो मारो चारभुजा रो नाथ,
बनी मारी तुलछा लाड़ली। २

बनो मारो चारभुजा रो नाथ लिरिक्स bano maro charbhuja ro nath bhajan,jagdish vaishnav bhajan ,rajasthani dj bhajan बनो मारो चारभुजा रो नाथ लिरिक्स

Leave a Reply