भली करी गुरु दाता भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
प्रथम गुरु महाराज को तो, चरण निवावूँ शीश।
हाथ जोड़ विनती करूँ, गुरु ज्ञान करो बख्शीस।

भली करी गुरु दाता ,
जिव राख्यो चौरासी में जाता।
भूलू नहीं लाखो बाता ,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।

करम गली में आयो ,
करमां सु काठो कलायो।
गुरु बचा लियो दोनूं हाथां ,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।
भली करी …

पगां तणो पांगलियो ,
म्हारा सतगुरु हेलो सांभळियो।
नहीं तो रन वन में रह जाता ,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।
भली करी …

आँख्यां छतो अंधारो ,
गुरु भूण्डो हाल हमारो।
सत्संग रा खेल बताया ,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।
भली करी …

मोह माया री नदी है भारी,
जिण में बह गयो कई वारि।
गुरु बचा लियो बह जाता,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।
भली करी …

सतगुरु सेण बताई ,
साधु सिमरथ राम सुधि पाई।
गुरु चरणों में राता माता ,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।

भली करी गुरुदाता ,
जिव राख्यो चौरासी में जाता।
भूलू नहीं लाखो बाता ,
म्हारे गुरु वचनो रा नाता।

सतगुरु के भजन | मोइनुद्दीन मनचला के भजन video

भली करी गुरु दाता bhali kari guru data bhajan गुरु महिमा भजन लिरिक्स
गुरु महिमा भजन लिरिक्स in hindi
भजन :- भली करी गुरुदाता
गायक :- मोइनुद्दीन मनचला

Leave a Reply