मंदिर देख डरे सुदामा भजन लिरिक्स

मंदिर देख डरे रे सुदामा ,
देवळ देख डरे रे डरे ।
देवळ देख डरे रे सुदामा ,
मन्दिर देख डरे रे डरे ॥

यहाँ होती मेरी राम कुटिया ,
यहाँ कोई नरपत आ उतरे ।
मृदंग – ताल पखावत बाजे ,
मंदिर देख डरे रे सुदामा ,
देवळ देख डरे रे डरे। टेर

पहली पोळ गज हस्ती घूमे ,
दूजी तुरंग खड़े रे खड़े ।
तीज पोळ विश्वकर्मा ठाड़े ,
थम्बा रतन जड़े रे जड़े ।
मंदिर देख डरे रे सुदामा ,
देवळ देख डरे रे डरे। टेर

इधर उधर काँई डोले पांडिया ,
काहे को सोच करे रे करे ।
महलां उभी अरज करे ,
आवो कंथ घरे रे घरे ।।
मंदिर देख डरे रे सुदामा ,
देवळ देख डरे रे डरे। टेर

तीन लोक और चौदह भवन में ,
दीना नाथ दया करे ।
दास सुदामा राख भरोसो ,
दुख दारिद्र दूर करे ॥
मंदिर देख डरे रे सुदामा ,
देवळ देख डरे रे डरे। टेर

राजस्थानी देसी भजन Video

मंदिर देख डरे सुदामा भजन mandir dekh dare sudama, sudama bhajan lyrics, राजस्थानी देसी भजन, सुदामा के भजन
भजन :- देवळ देख डरे रे सुदामा
गायक :- जय सिंह राजपुरोहित

Leave a Reply