मनडो नहीं लागे माला में नही है जीव थारो भजनो में

मनडो नहीं लागे माला में,
नही है जीव थारो भजनो में,
नहीं है जीव थारो भजनो में,
मनडो नी अब लागे माला मे।।

ए आय सतसंग मे नीचो बैठो,
मनडो लगायो बातो में,
आय सतसंग मे नीचो बैठो,
मनडो लगायो बातो में,
मनडो लगायो बातो में,
नही है जीव थारो भजनो में,
मनडो लगायो बातो में,
नही है जीव थारो भजनो में।।

बाग बगीचा जावण लागो,
फुलडा अब चुग रयो राता मे,
बाग बगीचा जावण लागो,
फुलडा अब चुग रयो राता मे,
फुलडा अब चुग रयो राता मे,
नही है जीव थारो भजनो में,
फुलडा अब चुग रयो राता मे,
नही है जीव थारो भजनो।।

बेटा ने परणाय ने लायो,
घर में बिन्दनीया रा हारा ने,
बेटा ने परणाय लायो,
घर में बिन्दनीया रा हारा ने,
घर में बिन्दनीया रा हारा ने,
मनडो नी लागे माला मे,
घर में बिन्दनीया रा हारा ने,
नही है जीव थारो भजनो में।।

ए जिला नागौर गाँव अमरपुरा,
माली लिखमोजी केवा ने,
जिला नागौर गाँव अमरपुरा,
माली लिखमोजी केवा ने,
अरे माली लिखमोजी केवा ने,
अमरापुर रा रेवा वे,
माली लिखमोजी केवा ने,
अमरापुर रा रेवा वे,
मनडो नी लागे माला मे,
नही है जीव थारो भजनो में।।

मनडो नहीं लागे माला में,
नही है जीव थारो भजनो में,
नहीं है जीव थारो भजनो में,
मनडो नी अब लागे माला मे।।

राजस्थानी भजन मनडो नहीं लागे माला में नही है जीव थारो भजनो में

Leave a Reply