मनमोहन तुम रूठ गए तो कौन मेरा जग में भजन लिरिक्स

Manmohan Tum Ruth Gaye To Kon Mera Jag Mai Bhajan Lyrics

मनमोहन तुम रूठ गए तो कौन मेरा जग में
कान्हा कौन मेरा ज आग में
साथ रहे हो अब ना रहा तो कौन मेरा जग में
कान्हा कौन मेरा ज आग में

ज़िंदगीका कारवाँ रुकता नहीं है
दिल है श्याम तुम बिन धड़कता नहीं है
चलने से पहले मैं गिर गया तो कौन मेरा जग में
कान्हा कौन मेरा ज आग में

तुम्हे क्या नहीं खबर सब कुछ पता है
दिल ये दर्द मेरा हद से गुज़रता है
मिलने से पहले बिछड़ गया तो कौन मेरा जग में
कान्हा कौन मेरा ज आग में

ग़म के मेले में कैसे मुलाकातें हो
मेरे इश्क़ की आखिरी साँसे हो
जीने से पहले मन मर गया तो कौन मेरा जग में
कान्हा कौन मेरा ज आग में

मिलने का रोग जो तुमसे लगा है
छलिया ना तुम छालो ये दास तेरा है
दर्शन से पहले भटक गया तो कौन मेरा जग में
कान्हा कौन मेरा ज आग में

Manmohan Tum Ruth Gaye To Kon Mera Jag Mai Bhajan Lyrics Youtube Video


Krishn Bhajan,कृष्ण भजन
Krishn Kanheya Ke Bhajan,कृष्ण कन्हेया  के भजन  Lord Krishna, भगवान कृष्णMurli Manohar Ke BhajanRadha-Krishn Ke BhajanKrishn Janmashtmi BhajanHare Krishn Hare Krishn

This Post Has 5 Comments

Leave a Reply