महिमा कही ना जाए बाबा श्याम की भजन लिरिक्स

महिमा कही ना जाए,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की,
ओ बाबा श्याम की,
खाटू धाम की,
मेरे घनश्याम की,
महिमा कही ना जावे,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की।।

श्याम को है दरबार निरालो,
खाली झोली भरने वालो,
जो चाहे सो लेकर जावे,
जो चाहे सो लेकर जावे,
जो भी गलियां आवे,
खाटू धाम की,
महिमा कही ना जावे,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की।।

भक्तां का दुःख देख ना पावे,
बाबो लीले चढ़कर आवे,
पल माहि संकट कट जावे,
पल माहि संकट कट जावे,
जो भी टेर लगावे,
बाबा श्याम की,
महिमा कही ना जावे,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की।।

तेरी चिंता श्याम करेगो,
अटकी नैया पार करेगो,
श्याम तेरो भंडार भरेगो,
श्याम तेरो भंडार भरेगो,
क्यों ना टिकट कटावे,
खाटू धाम की,
महिमा कही ना जावे,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की।।

सांचे मन स्यु श्याम सुमर ले,
श्याम धणी से हेत तू कर ले,
‘बिन्नू’ ऐसी करनी कर ले,
‘बिन्नू’ ऐसी करनी कर ले,
ज्योत में ज्योत समावे,
बाबा श्याम की,

महिमा कही ना जावे,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की।।

महिमा कही ना जाए,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की,
ओ बाबा श्याम की,
खाटू धाम की,
मेरे घनश्याम की,
महिमा कही ना जावे,
बाबा श्याम की,
याद घनेरी आए,
खाटू धाम की।।

Leave a Reply