मात पिता गुरु प्रभु चरणों में भजन लिरिक्स

॥ दोहा ॥
गुरु – चरणन में वन्दना , प्रथम करूं शीश झुकाय ।
बिगड़ी जनम अनेक की , गुरु बिन कौन बनाय ॥

मात – पिता और गुरु चरणों में ,
प्रणवत बारम्बार ।
हम पर किया बड़ा उपकार ,
हम पर किया बड़ा उपकार ।
ममता ज्ञान लुटाकर हम पर ,
दीना जनम सुधार ।
हम पर किया बड़ा उपकार ,
हम पर किया बड़ा उपकार ॥

माता ने जो कष्ट उठाया ,
कभी कर्ज ना जाये चुकाया ।
उंगली पकड़ कर चलना सिखाया ,
ममता की दी शीतल छाया ।
संस्कार लेकर जिनसे हम ,
कहलाये हुशियार ॥
हम पर किया बड़ा उपकार ,
हम पर किया बड़ा उपकार ।
मात – पिता और । ….

पिता ने हमको योग्य बनाया ,
कमा – कमा कर अन्न खिलाया ।
पढ़ा लिखा गुणवान बनाया ,
जीवन पथ पर चलना सिखाया ।
जोड़ – जोड़ अपनी सम्पत्ति का ,
बना दिया हकदार ॥
हम पर किया बड़ा उपकार ,
हम पर किया बड़ा उपकार ।।
मात – पिता और । ….

तत्व ज्ञान गुरुने दर्शाया ,
अंधकार से दूर हटाया ।
हृदय में भक्ति का दीप जलाया ,
हरी मिलन का मार्ग दिखाया ।
कृपा अगर उनकी ना होती ,
फँस जाते मझधार ॥
हम पर किया बड़ा उपकार ,
हम पर किया बड़ा उपकार ॥
मात – पिता और । ….

हरी कृपा से नर तन पाया ,
संत मिलन का काज सजाया ।
प्रेम बुद्धि विद्या सिखलाकर ,
सब जीवों में श्रेष्ठ बनाया ।
जोभी इनकी शरण में आता ,
कर देते उद्धार ।
हम पर किया बड़ा उपकार ,
हम पर किया बड़ा उपकार
मात – पिता और । ….

prakash mali bhajan rajasthani video

मात पिता गुरु प्रभु चरणों में maat pita guru prabhu charno me lyrics, prakash mali bhajan rajasthani
desi bhajan hindi lyrics
भजन :- मात – पिता और गुरु चरणों
गायक :- प्रकाश माली

Leave a Reply