मान जाओ ना कन्हैया मान जाओ ना भजन लिरिक्स

मान जाओ ना कन्हैया,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना।।

से सु सुनी हूँ पल में,
काम बणाया,
से सु सुनी हूँ पल में,
काम बणाया,
मेरी बारी क्यूँ सांवरा,
देर लगाया,
मेरे मन की बतियाँ ने,
जान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना।।

ना ही थारी मीरा हूँ मैं,
ना ही थारी नानी,
ना ही थारी मीरा हूँ मैं,
ना ही थारी नानी,
पर वा सु कम नहीं है,
थारी या दीवानी,
हिवड़ा की पीड़ा ने,
पहचान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना।।

लाज गर जावेगी तो,
नाम थारो होसी,
लाज गर जावेगी तो,
नाम थारो होसी,
नाव तर जावेगी तो,
नाम थारो होसी,
श्याम’ कवे ‘सुमि’ ने,
गले लगाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना।।

मान जाओ ना कन्हैया,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना,
क्यूँ रूस्या बैठ्या हो सांवरा,
मान जाओ ना।।

Leave a Reply