मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम भजन लिरिक्स

मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम,

नन्द को गोपाल,
माता यशोदा को लाल,
प्यारो सवरियो सरकार,
वृंदावन में आज,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम।।

घर घर होवे पूजा थारी,
गांव गांव जस गावे जी,
जो कोई लेवे नाम श्याम को,
मन इच्छा फल पावे जी,
हे नन्द का लाल थारी,
पेड़ी पे ढोक लगावा,
थारी जोत जगावा।
नन्द को गोपाल,
माता यशोदा को लाल,
प्यारो सवरियो सरकार,
वृंदावन में आज,
मीठी बंसी बजावे महारों श्याम,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम।।

गोकुल मथुरा वृंदावन में,
रास रचे गोपाल जी,
नटवर नागर गिरधर नागर,
मीरा को घनश्याम जी,
हे सांवरा श्याम थारा,
कीर्तन में झूम झूम गावा,
जय जयकार लगावा।
नन्द को गोपाल,
माता यशोदा को लाल,
प्यारो सवरियो सरकार,
वृंदावन में आज,
मीठी बंसी बजावे महारों श्याम,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम।।

दास करे अरदास साँवरीया,
कर दो बेडा पार जी,
दे दो दरशन बाबा मुझको,
आया थारे द्वार जी,
हे नन्द का लाल थारी,
महिमा है अपरम्पारि,
गावे है नर नारी।
नन्द को गोपाल,
माता यशोदा को लाल,
प्यारो सवरियो सरकार,
वृंदावन में आज,
मीठी बंसी बजावे महारों श्याम,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम।।

नन्द को गोपाल,
माता यशोदा को लाल,
प्यारो सवरियो सरकार,
वृंदावन में आज,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम,
मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम।।

कृष्ण भजन मीठी बंसी बजावे म्हारो श्याम भजन लिरिक्स

Leave a Reply