मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो मेरी डूबी हुई नैया भजन लिरिक्स

मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो,
मेरी डूबी हुई नैया को किनारा दे दो,
मेरी नैया ना डूब पाएगी,
अपनी नजरो का मुझे एक इशारा दे दो,
मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो।।

सारे ज़माने में चर्चा तेरी,
सब पे रहे बाबा किरपा तेरी,
छूटे कभी ना चौखट तेरी,
तू अगर साथ है,
डर की क्या बात है,
कहीं मुझसे रूठ ना जाना,
करूँ सेवा ये इजाजत दे दो,
मेरी डूबी हुई नैया को किनारा दे दो,
मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो।।

सारे ज़माने से हारा हूँ मैं,
तक़दीर का बाबा मारा हूँ मैं,
देख मुझे बेसहारा हूँ मैं,
तेरा साथ मिले मेरी नाव चले,
कहीं तू भी छोड़ ना जाना,
मुझे तेरे नाम की दौलत दे दो,
मेरी डूबी हुई नैया को किनारा दे दो,
मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो।।

खुशियों से भर दो झोली मेरी,
देखेगी दुनिया किरपा तेरी,
बोलूंगी सबको बात खरी,
जो भी हार गया वो ही पार गया,
तेरे ‘गोविन्द’ ने है माना,
कहे ‘निशा’ हमें शरण ले लो,
मेरी डूबी हुई नैया को किनारा दे दो,
मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो।।

मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो,
मेरी डूबी हुई नैया को किनारा दे दो,
मेरी नैया ना डूब पाएगी,
अपनी नजरो का मुझे एक इशारा दे दो,
मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो।।

कृष्ण भजन मुझे मेरे श्याम सहारा दे दो मेरी डूबी हुई नैया भजन लिरिक्स
तर्ज – मेरे मेहबूब क़यामत।

Leave a Reply