या तो सुरगा ने शरमावे, इण पर देव रमण ने आवे धरती धोरा री राजस्थानी भजन लिरिक्स Rajasthani Bhajan Lyrics

या तो सुरगा ने शरमावे, इण पर देव रमण ने आवे धरती धोरा री राजस्थानी भजन लिरिक्स | Ya Toh Surga Ne Sharmave, In Par Dev Raman Ne Aave Dharti Dhora Ri Rajasthani Bhajan Lyrics

आतो सुरगां न सरमावे , इ पर देव रमण न आवे
ईरो जस नर नारी गावे , धरती धोरां री,
धोरां री धरती धोरां री

सूरज कण कण न चमकावे
चंदो इमरत रस बरसावे , तारा निछरावल कर जावे ,
धरती धोरां री
काला बाद्लिया घिर आवे, बिरखा घुंघरिया घमकावे ,
बिजली डरती होला खावे ,
धरती धोरां री
आतो सुरगां न सरमावे , इ पर देव रमण न आवे
ईरो जश नर नारी गावे , धरती धोरां री
धोरां री धरती धोरां री

लुल लुल बाजरियो लहरावे
मक्की झाला देर बुलावे , कुदरत दोंयु हाथ लूँटावे
पंछी मधुरा मधुरा बोले, मिश्री मीठे सुर में घोले
झिणु बायारियो पंपोले धरती धोरां री
आतो सुरगां न सरमावे , इ पर देव रमण न आवे
ईरो जश नर नारी गावे , धरती धोरां री
धोरां री धरती धोरां री

ईरो चितोड़ो गढ़ लुन्ठो
ओतो रण वीरा रो खूंटो
ईरो जोधाणु नो कुंटो , धरती धोरां री
आबू आमेरे परवाने. लूणी गंगा जी ही जाणे
उभो जेशलमेर सिराने ,धरती धोरां री
आतो सुरगां न सरमावे , इ पर देव रमण न आवे
ईरो जश नर नारी गावे , धरती धोरां री
धोरां री धरती धोरां री

ईरो बिक्कानो गर्विलो,
ईरो अलवर जब्बर हठिलो
ईरो अजमेर भड्किलो धरती धोरां री
जयपुर नगरा री पटरानी , कोटा बूंदी कद अण जाणी
चम्बल केवे आरिं कहानी ,धरती धोरां री
आतो सुरगां न सरमावे , इ पर देव रमण न आवे
ईरो जश नर नारी गावे , धरती धोरां री,
धोरां री धरती धोरां री

ई पर तनडो मनडो वारा,
ई पर जीवन प्राण उवारा
ई री ध्वजा उड़े गिगनारा ,धरती धोरां री
ई न मोत्यां थाल बँधावा
ई री धुल लिलाड लगावा
ई रो मोटो भाग सरावा, धरती धोरां री
आतो सुरगां न सरमावे , इ पर देव रमण न आवे
ईरो जश नर नारी गावे , धरती धोरां री

 Rajasthani Independence Day Song | Rajasthani Lokgeet Bhajan | Rajasthani Patriotic Song Youtube Video

aato suragan na sarmave ave par dev raman na awe
Rajasthani Deshbhakti Geet | Ya Toh Surga Ne Sharmave, In Par Dev Raman Ne Aave Dharti Dhora Ri Rajasthani Bhajan Lyrics | Rajasthani Bhajan Lyrics | Rajasthani Lokgeet | Rajasthani Bhajan Ki Lyrics 

This Post Has 4 Comments

Leave a Reply