यूँ तेरा नजरे चुराना साँवरे अच्छा नहीं भजन लिरिक्स

यूँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं,
साँवरे अच्छा नहीं,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

मिलने का वादा किया था,
अब तलक आए नहीं,
वादा करके तुम ना आए,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

तेरे वादे पर ना जाने,
क्यों भरोसा कर लिया,
तोड़ कर विश्वास जाना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

क्यों दिया झूठा दिलासा,
जब तुम्हे आना ना था,
ये तेरा झूठा बहाना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

छल गया हमको हमारा,
अब किसी से क्या कहे,
हाल ऐ दिल सबको सुनाना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

जानते तुम संग दिल हो,
प्रीत हम करते नहीं,
पत्थरो से दिल लगाना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

प्यार में तेरे कन्हैया,
हम तो पागल हो गए,
प्रेमियों को यूँ सताना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

हमसफर बनकर चले हम,
श्याम तेरे साथ में,
राह में यूँ छोड़ जाना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

ये तो बतला दो ऐ प्यारे,
भूल हमसे क्या हुई,
अपनों से यूँ रूठ जाना,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

यूँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं,
साँवरे अच्छा नहीं,
साँवरे अच्छा नहीं,
युँ तेरा नजरे चुराना,
साँवरे अच्छा नहीं।।

Leave a Reply