राजदुलारी भजन लिरिक्स| Rajdulaari Bhajan Lyrics

राजदुलारी भजन लिरिक्स| Rajdulaari Bhajan Lyrics

तू महलों में रहने वाली,
मैं जोगी जटा धारी हूं,
तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं,

तू महलो में रहने वाली,
मैं जोगी जटा धारी हूं,
तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं,

पर्वत पे मैं करूं गुजारा,
मेरा कोई घर बार नहीं,
ब्याह करा के मेरे से मिले,
सास ससुर का प्यार नहीं,

तू सेझो पे शोने वाली आ
खटिया पलंग निवास नहीं,
तू मांगेगी कहा से दूंगा,
सीसा हार सिंगर नहीं

तुझे छप्पन भोग की आदत है,
मैं बिलकुल पेट पुजारी हूं,

तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं,

तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,
आरे शंभू,
तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,

तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,
आरे शंभू,
तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,

तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,
आरे शंभू,
तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,

तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,
आरे शंभू,
तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,

ब्रह्म से तू ब्याह कराले,
ब्राह्मणी बन जावेगी,
इंदर से तू व्याह करवाले,
इंद्राणी बन जावेगी,

विष्णु से तू ब्याह कराले,
पटरानी बन जावेगी,
मेरे संग में ब्याह की हट से,
तेरी हानी बन जाएगी,

तू राजा हिमांचल की लाडली,
मैं शमसान बिहारी हूं,
तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं,

तू महलो में रहने वाली,
मैं जोगी जटा धारी हूं,
तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं

तू सोहनी में सुंदर ना हूं
पीता घोट के भंगा हूं
जटा जूट वि काल कूट वि
मस्ती मैं मस्त मलंगा हु

रोज़ लड़ेगी तेरी सोतन
रखता शीश पे गंगा हूं
देख देख तेरा दम निकलेगा
लिपटा ही कई भुजंगा हूं

ना खाने को ना पीने को
नाम का शिव भंडारी हूं
तेरा मेरा मेल मिले ना
रहता अटल अटारी हूं

तू महलो में रहने वाली,
मैं जोगी जटा धारी हूं,
तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं,

महादेव शिव साईं महेश्वर शंभू
हर हर हर शिव साईं शंकर शंभु
सत साईं शंकर शंभु

आस नहीं रंग रास नही
कैसे मन बहलावेगी
ठंडी बर्फ पे सोना होगा
सरदी में तू डर जाएगी

हाथ में पड़ जाएंगे छाले
भांग का घोटा लावेगी
मेरे पास कोई नहीं सवारी
तू पीहर कैसे जावेगी

तेरे मन का कमल खिले ना
अर्ध पुरुष अर्ध नारी हूं
तेरा मेरा मेल मिले ना
रहता मस्त मलंगा हूं

तू महलो में रहने वाली,
मैं जोगी जटा धारी हूं,
तेरा मेरा मेल मिले ना,
रहता अटल अटारी हूं,

तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,
आरे शंभू,
तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,

तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,
आरे शंभू,
तेरे प्यार में होई मैं दीवानी,

मैं चुप होकर भी हर बात हूं
में दिन होकर भी अंधेरी रात हुं.!
तू चिंता मत कर मेरी गोरा
में दूर होकर भी तेरे साथ हूं.!

Hansraj Raghuvanshi Songs Lyrics, Rajdulari Song Lyrics,Parvati Bhajan Youtube Video

Hansraj Raghuvanshi Songs Lyrics, Rajdulari Song Lyrics,Parvati Bhajan Lyrics,

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply