राजस्थानी भजन लिखित me

Bhajan Bhakti Songs Details

राजस्थानी भजन लिखित me

चरखा रो भेद बतादे कातन वाली नार भजन लिरिक्स

चरखा रो भेद बतादे कातन वाली नार भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।चलती चक्की देख के, दिया कबीरा रोय।दो पठान के बिच में , साबुत बचा ना कोय। चरखा रो भेद बता दे ,कातण वाली नार।कातण वाली नार सुन्दरी ,कातण…CONTINUE READINGचरखा रो भेद बतादे कातन वाली नार भजन लिरिक्स

पंछीडा लाल आछी पड़ियो रे उलटी पाटी भजन लिरिक्स

पंछीडा लाल आछी पड़ियो रे उलटी पाटी भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।दौड़ सके तो दौड़ ले, जब लग तेरी दौड़।दौड़ थकी धोखा मिट्या, वस्तु ठोड की ठोड। पंछीडा लाल आछी ,पड़ियो रे उलटी पाटी।ईश्वर ने तू भूल गयो रे…CONTINUE READINGपंछीडा लाल आछी पड़ियो रे उलटी पाटी भजन लिरिक्स

इन रे आंगणिये सखी कई नर खेलन आया भजन लिरिक्स

इन रे आंगणिये सखी कई नर खेलन आया भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।कबीरा सोया क्या करे, उठ ने भज भगवान।जम जब घर ले जायेंगे, पड़ी रहेगी म्यान। इण रे आंगणिये ए सखी ,कई नर खेलन आया।कई खेल्या ने कई नर…CONTINUE READINGइन रे आंगणिये सखी कई नर खेलन आया भजन लिरिक्स

मनवा राखे नी विश्वास रामजी ने भूले काई रे भजन लिरिक्स

मनवा राखे नी विश्वास रामजी ने भूले काई रे भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।सुन्दर चिंता मत करे, काहे को बिबलाय।पेट दिया जिन राम ने, आप देवेला आय। मनवा राखे नी विश्वास ,रामजी ने भूले काहि रे।भूले काहि रे राम ने भूले…CONTINUE READINGमनवा राखे नी विश्वास रामजी ने भूले काई रे भजन लिरिक्स

थारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार पुराणी पड़सी चुनडली भजन लिरिक्स

थारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार पुराणी पड़सी चुनडली भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।आतम तत्व परख लो, जल पर खड़ी है जहाज।मन अपने को वश करो, सरे जुगत रा काज। थारी चुनडली रो चटको दिन चार ,पुराणी पड़सी चुनडली। आख्या सु…CONTINUE READINGथारी चुनड़ली रा चटका है दिन चार पुराणी पड़सी चुनडली भजन लिरिक्स

जोगणिया थारो ऊंचो देश अखंड भजन लिरिक्स

जोगणिया थारो ऊंचो देश अखंड भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।कीर्ति मुकुट कुण्डल किरण, चोली चमकत हीर।घेर गुमारो घागरो, मैया ओडन दखणी रो चीर। जोगणिया थारो ,ऊंचो देश अखंड।ऊंचो गणो देश अखंड ,भवानी थारो ,ऊंचो देश अखंड। मुल्क…CONTINUE READINGजोगणिया थारो ऊंचो देश अखंड भजन लिरिक्स

काची नींद के माय अचानक मने जगायो क्यों भजन लिरिक्स

काची नींद के माय अचानक मने जगायो क्यों भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।सुन रावण की आवाज ,कुम्भ घोर निद्रा से जागा।आयी है कोई घनघोर विपदा ,मन ही मन विचारा। बीरा मारा काची नींद के माय ,अचानक मने जगायो क्यों।मने जगायो…CONTINUE READINGकाची नींद के माय अचानक मने जगायो क्यों भजन लिरिक्स

क्यों नैना भरमावे जी थारे हाथ कबीर नहीं आवे जी भजन लिरिक्स

क्यों नैना भरमावे जी थारे हाथ कबीर नहीं आवे जी भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।कबीरा सोया क्या करे, उठ ने भजे नी भगवान।जम जब घर ले जायेगे, पड़ी रहेगी म्यान। क्यों नैणा भरमावे जी ,थारे हाथ कबीरो नहीं आवे जी।क्यों नैणा भरमावे…CONTINUE READING

for: “मारवाड़ी

  1. >
  2. “मारवाड़ी ”>
  3. Page
पीले अमीरस धारा गगन में झड़ी लगी भजन

पीले अमीरस धारा गगन में झड़ी लगी भजन

।। दोहा ।।अमृत केरी मोठरी, राखो सतगुरु छोर।आप सरिका जो मिले, ताही पिलावे छोड़। पीले अमीरस धारा ,गगन में झड़ी लगी।झड़ी लगी रे झड़ी लगी।पीले अमीरस धारा ,गगन में झड़ी…CONTINUE READINGपीले अमीरस धारा गगन में झड़ी लगी भजन

रमता जोगी ने मारा आदेश देना रे भजन लिरिक्स

रमता जोगी ने मारा आदेश देना रे भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।कहे मछँदर नाथ, कर सत्संग आतम लखो।आयो मोको हाथ, चूक्या फेर पछताय। रमते जोगी ने म्हारा ,आदेश देणा रे।आदेश देणा रे जोगी ने म्हारा ,आदेश देणा रे। नदी…CONTINUE READINGरमता जोगी ने मारा आदेश देना रे भजन लिरिक्स

मारा सुवा बीरा रे नानी बाई को मायरो भजन लिरिक्स

मारा सुवा बीरा रे नानी बाई को मायरो भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।आतम तत्व परख लो, जल पर खड़ी है जहाज।मन अपने को वश करो, सरे जुगत रा काज। सुण मारा सुवा बीरा रे।बैठो आमुला री डाल ,बोली रे थारी…CONTINUE READINGमारा सुवा बीरा रे नानी बाई को मायरो भजन लिरिक्स

मत ले रे जिवडा नींद हरामी भजन लिरिक्स

मत ले रे जिवडा नींद हरामी भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।सुता सुता क्या करो, सुता ने आवे नींद।जम सिराने आन खड़ो, ज्यू तोरण आयो बिन्द। मत ले रे जीवड़ा नींद हरामी,नींद आलसी।थोडा दीना रे खातिर ,काई सोवे।थोडा दीना…CONTINUE READINGमत ले रे जिवडा नींद हरामी भजन लिरिक्स

पांच गाँव मारे पांडवों ने देवो भजन लिरिक्स

पांच गाँव मारे पांडवों ने देवो भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।मनवा तो पंछी भया, उड़ के चला आकाश।ऊपर से ही गिर पड़ा, मोह माया के पास। पांच गाँव पांडवा ने दे दो ,अरे बाकी राज तुम्हारो।दुर्योधन मानो वचन…CONTINUE READINGपांच गाँव मारे पांडवों ने देवो भजन लिरिक्स

सुण सुण ये मारी काया ये रंगीली भजन लिरिक्स

सुण सुण ये मारी काया ये रंगीली भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।काया में माया बसे बीरा, ज्यों पत्थर में आग।हरि मिलणा जो चावे तो, चकमक होकर लाग। सुण सुण ये मारी काया ये रंगीली ,कुसंगत में जावे मत ना।कु…CONTINUE READINGसुण सुण ये मारी काया ये रंगीली भजन लिरिक्स

जियो घणावर राज घणावर सुन्धा रा रे पहाडों में भजन लिरिक्स

जियो घणावर राज घणावर सुन्धा रा रे पहाडों में भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।जय जय जय माँ अष्ट भवानी, थारी महिमा वेद बखाणी।तीन लोक में होवे थारी पूजा ध्यान धरे सुर नर मुनिज्ञानी। जियो घणावर राज घणावर,वंका ने रे पहाड़ो में।जगदम्बा…CONTINUE READINGजियो घणावर राज घणावर सुन्धा रा रे पहाडों में भजन लिरिक्स

कलजुग झाला देतो आवे रे चौडे धाडे भजन लिरिक्स

कलजुग झाला देतो आवे रे चौडे धाडे भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।आठ पहर यूॅ ही गया, माया मोह जंजाल।राम नाम हृदय नहीं, जीत लिया जम काल। कलजुग झाला देतो आवे रे ,चौडे धाडे।चौडे धाडे ओ ,कलजुग हेला मारे।कलयुग झाला…CONTINUE READING

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply