शमशाबाद अति पावन भूमि आई माता भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन शमशाबाद अति पावन भूमि आई माता भजन लिरिक्स

शमशाबाद अति पावन भूमि,
आई माताजी री बडेर सुहानी,
परचा पडे हद भारी ओ,
चमत्कारी ओ,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

चेलाराम नरेंद्र काग संग,
प्रवीण काग भी साथे जी,
मल्लाराम पंवार राजू जी,
काग भीक जी आगे जी,
लिखमोजी जगदीश काग साथे जी,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

हरजी राम ओर आशारामजी,
हरीराम आई थारा जी,
बगदाराम ओर भूरा रामजी,
जप रया जाप तिहारा जी,
थारी शरणा मे सगला आया जी,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

भगत अटासु गया बिलाडे,
ज्योत आई जी लाया जी,
चमत्कार रस्ते में आई माँ,
भगतो ने दिखलाया जी,
मनोरथ भगतो रा पूरीया जी,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

प्रतिष्ठा रो समय आयो जद,
चौदस वर्षा हो रही जी,
शमशाबाद सुहानो मौसम,
मेहर आई जी मोटी जी,
भगतो रे आई जी मन भाया जी,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

माधव सिंह दिवान साहब जी,
करे सेवना मैया री,
किशोर सुमन बिलाड़ा वासी,
आई री महीमा गाई जी,
लखन चौधरी जस गाया जी,
दुर्गा रवि गुन गावे जी,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

शमशाबाद अति पावन भूमि,
आई माताजी री बडेर सुहानी,
परचा पडे हद भारी ओ,
चमत्कारी ओ,
आई माता री बडेर में,
शमशाबाद अति पावन भूमी।।

This Post Has One Comment

Leave a Reply