संतों वाळी टोगड़ी भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
संत हमारी आत्मा और मैं संतन की देह ।
रोम रोम में रमरया प्रभु ,ज्यूं बादळ में मेह ।

कुरमुर कुरमुर पगल्या बाजे ,
कौन जिनावर जाय ।
संतों वाली टोगड़ी ,
अरे साधों वाळी टोगड़ी ।

संतों वाळी टोगडी ने चीतरो लियो जावे ,
रामी चीतरा रे ,
टोगड़ी मत मारे भोळा साध री रे जियो ,
रामसा जियो , पीर सा जियो ,
जियो रे भाई जियो ।।

अरे गायां चाली गोरवे रे राम ,
भैस्यां पीवण जाय ।
संतों वाली टोगडी रे ,
सामी कांखड़ जावे ,
हरामी चीतरा रे ॥
टोगड़ी मत मारे भोळा साध री रे जियो ,
रामसा जियो , पीर सा जियो ,
जियो रे भाई जियो ।।

हाथ में सोनेरो चुटियो ,
रामदेव धणी आवे ।
संतों वाळी टोगड़ी ने ,
घेर – घेर ने लावे ,
हरामी चीतरा रे ॥
टोगड़ी मत मारे भोळा साध री रे जियो ,
रामसा जियो , पीर सा जियो ,
जियो रे भाई जियो ।।

गाँव में जुड़िया में बापजी ,
जाट रूप जी बोले ।
संतों वाळी टोगड़ी आ ,
अमरापुर में बोले ,
हरामी चीतरा रे ।।
टोगड़ी मत मारे भोळा साध री रे जियो ,
रामसा जियो , पीर सा जियो ,
जियो रे भाई जियो ।।

prakash mali ke bhajan Video

संतों वाळी टोगड़ी santo wali togdi bhajan, prakash mali ke bhajan, bhajan desi lyrics, marwadi desi bhajan
marwadi desi bhajan lyrics in Hindi संतों वाळी टोगड़ी
भजन :- संतों वाळी टोगड़ी
गायक :- प्रकाश माली

Leave a Reply