संत मिले उपदेशी भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
गुरु बिन ज्ञान न उपजै,गुरु बिन मिलै न मोष।
गुरु बिन लखै न सत्य को,गुरु बिन मिटे न दोष।

सतगुरु आया ने रिद्धि सिद्धि लाया ,
निर्भय नाम सुनाया ।
संत मिले उपदेशी ,
आगम री बाता कैसी जी
संत मिले उपदेशी हो जी।

सोना पीतल रो एक रंग ,
पीतल ने सोनो कुन कैसी ।
संत मिले उपदेशी ,
आगम री बाता कैसी जी।
संत मिले उपदेशी हो जी।

काग कोयल रो एक रंग ,
कागा ने कोयल कुन कैसी।
संत मिले उपदेशी ,
आगम री बाता कैसी जी।
संत मिले उपदेशी हो जी।

हँस बुगला रो एक रंग ,
बुगला ने हँस कुन कैसी ।
संत मिले उपदेशी ,
आगम री बाता कैसी जी।
संत मिले उपदेशी हो जी।

खीर खांड रा इमरत भोजन ,
संत अलोना लेसी।
संत मिले उपदेशी ,
आगम री बाता कैसी जी।
संत मिले उपदेशी हो जी।

मोइनुद्दीन मनचला के भजन video

संत मिले उपदेशी sant mile up desi bhajan सतगुरु आया ने रिद्धि सिद्धि लाया गुरु महिमा के भजन
सतगुरु आया ने रिद्धि सिद्धि लाया गुरु महिमा के भजन
भजन :- संत मिले उपदेशी
गायक :- मोइनुद्दीन मनचला

Leave a Reply