सदा अपनी रसना को रसमय बना दे भजन लिरिक्स

Sada Apni Rasna Ko Rasmay Bana De Bhajan Lyrics

सदा अपनी रसना को रसमय बना दे
श्री राधे श्री राधे श्री राधे जपा ले

इसी जप से कष्टों का कम भार होगा
इसी जप से पापो का प्र्तिगार होगा
इसी जप से नर तन का शिंगार होगा
इसी जप से तू प्रभु को सवीकार होगा
तू स्वासो की दिन रात माला बना कर
श्री राधे श्री राधे श्री राधे जपा कर

इसी जप से तू आत्मवालवान होगा
इसी जप से कर्तव्य अज्ञान होगा
इसी जप से संतो में समान होगा
इसी जप से संतुश भगवान होगा
अकेले हीया साथ सब को मिला कर
श्री राधे श्री राधे श्री राधे जपा कर

ये जब जब तेरे मन को ललचा रहा हो
वो रसिको के रस पंथ पर जा रहा हो
मजा श्री राधे नाम का आ रहा हो
राधे ही राधे हर तरफ छा रहा हो
तो कुछ प्रेम के बिंदु द्रिग से बहा कर
श्री राधे श्री राधे श्री राधे जपा कर

Sada Apni Rasna Ko Rasmay Bana De Bhajan Lyrics Youtube Video

Bhajan LyricsKrishn Bhajan,कृष्ण भजनKrishn Kanheya Ke Bhajan,कृष्ण कन्हेया  के भजन  Lord Krishna, भगवान कृष्णMurli Manohar Ke BhajanRadha-Krishn Ke BhajanKrishn Janmashtmi BhajanHare Krishn Hare Krishn

This Post Has One Comment

Leave a Reply