हर भज हर भज हीरा परख ले भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
सुण जीवण संग्राम री, एक बात निरधार।
चाले जां की जीत है, सोवै जां की हार।।

हर भज हर भज हीरा परख ले,
समझ पकड़ नर मजबूती ।
साचा समरन करो सायब रा ,
और वार्ता सब झूठी ॥

इन्द्र घटा ले सतगुरु आया,
अम्रत बुंदा हद बूँटी ।
त्रिवेणी के रंग महल में ,
साधा लाला हद लूटी ||
हर भज …

इण काया में पाँच चोर है,
जिनकी पकड़ो सिर चोटी |
पाँचो ने मार पच्चीस वश करले ,
जद जाणा तेरी रजपुती ||
हर भज …

सत सुमरण का सैल बणाले,
ढाल बणाले धीरज की |
काम, क्रोध ने मार हटा दे,
जद जाणु थारी मजबुती ||
हर भज …

झरम रझरमर बाजा बाजै,
झिलमिल ज्योतो वे जलती |
ओंकार पर रणोकार है हँसला ,
चुग गया निज मोती ||
हर भज …

पक्की घड़ी का तोल बणाले,
काण ने राखो एक रती ।
गुरु चरणे मछेन्द्र बोले,
अलख लख्या सो खरा जती ||
हर भज …

shyam paliwal bhajan video

हर भज हर भज हीरा परख ले भजन har bhaj har bhaj hira parakh le bhajan श्याम पालीवाल के भजन
हर भज हर भज हीरा परख ले hindi bhajan lyrics
भजन :- हर भज हर भज हीरा परख ले
गायक :- श्याम पालीवाल

Leave a Reply