हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु भजन लिरिक्स Bhajan Lyrics

हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु भजन लिरिक्स| Haar Betha Hu Duniya Se Tere Darbaar Aaya Hu Bhajan Lyrics

हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु
तेरे दरबार आया हु तेरे दरबार आया हु
बिन तेरे ना कोई अपना मैया जग से सताया हु
हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु

किया था प्रेम जिस जिस को उन्ही से धोखा खाया है,
हे माँ तू न भुला देना शरण में तेरी आया हु
हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु

सुना है बिगड़ी लाखो की दातिये तुम बनाती हो
ना जाने खोट क्या मुझ में नजर तुम को ना आया हु
हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु

हे माँ चरणों में तेरे शीश करे वंदन तेरा ये मनीष,
पुष्प रेहमत के बरसा दो तेरी चोकठ पे आया हु
हार बैठा हु दुनिया से तेरे दरबार आया हु|

Matarani Ke Bhajan, Mata ji ke Bhajan Video

Durga Mata Bhajan,Durga Meyya Bhajan Lyrics, Matarani Ke Bhajan, Mata ji ke Bhajan

This Post Has One Comment

Leave a Reply