Karma Ra Likhiya Aankada Koi Badal Nhi Pave rajasthani bhajan hindi lyrics | Hemnath Yogi Bhajan lyrics

कर्मा रा लिखिया आंकड़ा ,जाने कोई मिटा नहीं पावे।
कोई मिटा नहीं पावे मारा बीरा मारा कोई बदल नहीं पावे।

राजा रावण करी तपस्या ,सोने की लंका पावे।
भक्त विभीषण माला फेरी ,राम चरण मिल जावे।
कुम्भकरण इंद्राशन मांगे ,जाने निंद्रा संग मिल जावे।
कर्मा रा लिखिया आंकड़ा ,जाने कोई मिटा नहीं पावे। २

राजा विक्रम सेठ हवेली में ,अन्न जल भोग लगावे।
फुटो किस्मत देख देख ने ,मोर हार निगळाावे।
फूटा करम फ़क़ीर का वो ,जाके भरी जिलम ढुल जावे।
कर्मा रा लिखिया आंकड़ा ,जाने कोई मिटा नहीं पावे। २

राजा बलि तो हेम हला में ,ननयानु यग करावे।
सोवो यग करे बलिराजा ,स्वर्ग पहुचनो चावे।
स्वर्ग हाथ में ले आयो वारे ,सीधो पाताला में पुगावे।
कर्मा रा लिखिया आंकड़ा ,जाने कोई मिटा नहीं पावे। २

अरे गाडो खींच ने लावे बलदियो ,सुखो चारो खावे।
अरे मातो मांड ने मेले हीरो ने ,तोई वो जस नहीं पावे।
अरे ठान बन्दियोड़ी घोड़ी देखो ,जाने रेचको लाय खिलावे
कर्मा रा लिखिया आंकड़ा ,जाने कोई मिटा नहीं पावे। २

अरे रोडिया मई ने सुता पण ,महेला रा सपना आवे।
अरे लिख्यो तेल तक़दीर में ,तो घिरत कठा सु पावे।
अरे होनो होय वो होय उकारा ,अपनों मन समजावे।
कर्मा रा लिखिया आंकड़ा ,जाने कोई मिटा नहीं पावे। २

भजन :- कर्मा रा लिखिया आंकड़ा
गायक :- हेमनाथ योगी
hemnath yogi ke bhajan

Leave a Reply