kya leke aaya bande kya leke jayega lyrics anil nagori bhajan Lyrics | क्या लेके आया बंदा

क्या लेके आया बंदा ,क्या लेके जायेगा। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २

इस जगत सराई में ,मुसाफिर रहना दो दिन का। २
क्यों वीरता करे गुमान ,मुर्ख इस धन और जोबन का। २
बंध मुठ्ठी आया जग में ,खाली हाथ जायेगा। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २
क्या लेके आया बंदा ,क्या लेके जायेगा। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २

वे कटे गया बलवान ,तीन बार धरती टोलणिया। २
जारी पड़ती धाक ,नहीं कोई सामी बोलणिया। २
निर्भय डोलणिया वे तो ,गया रे अकेला। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २
क्या लेके आया बंदा ,क्या लेके जायेगा। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २

नहीं जेल सका कोई ,माया गिण गीणाई रे। २
गढ़ किला की नीव ,छोड़ गया चुनी चुनाई रे
चुनी रे चुनाई रे गई ,गया है अकेला।
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २
क्या लेके आया बंदा ,क्या लेके जायेगा। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २

इस काया का है बाग़ ,भाग बिना पाया नहीं जाता।२
कहे शर्मा बिना नसीब ,तोड़ फल खाया नहीं जाता। २
भव् सागर से तीर ले बंदा,हरी गुण गायले। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २
क्या लेके आया बंदा ,क्या लेके जायेगा। २
दो दिन की जिंदगी है ,दो दिन का मेला। २

भजन :- क्या लेके आया बन्दे
गायक :- अनिल नागौरी

Leave a Reply