अरे माखन की चोरी छोड़ साँवरे मैं समझाऊँ तोय भजन लिरिक्स

अरे माखन की चोरी छोड़,साँवरे मैं समझाऊँ तोय,मैं समझाऊँ तोय,कन्हैया मैं समझाऊँ तोय,अरें माखन की चोरी छोड़,साँवरे मैं समझाऊँ तोय।। नव लख धेनु तेरे बाबा के,नव लख धेनु तेरे बाबा…

Continue Readingअरे माखन की चोरी छोड़ साँवरे मैं समझाऊँ तोय भजन लिरिक्स