काली मैया मेरे घर में इक बारी तू आजा भजन लिरिक्स

काली मैया मेरे घर में इक बारी तू आजा भजन लिरिक्स
गायक – बंटी सैनी सीवन (कैथल)

काली मैया मेरे घर में,
इक बारी तू आजा,
मै हूं भक्त तेरा भोला भाला,
मैया दर्श दिखाजा।।

हो तेरे दर्शन की आस लागरी,
मैया जोत जगा राखी,
पान सुपारी धजा नारियल,
भेट तेरी मंगवा राखी,
जल्दी आजा मैया मेरी,
सपने सच तू बनाजा,
मै हूं भक्त तेरा भोला भाला,
मैया दर्श दिखाजा।।

हो काली चुनरिया मैया तेरी,
कलकत्ते ते मगवाई री,
कलकते वाली काली मैया,
इब तलक क्यों ना आई री,
लाज रखले अपने भक्त की,
बिगड़ी मेरी बना जा,
मै हूं भक्त तेरा भोला भाला,
मैया दर्श दिखाजा।।

हो तेरे चरणों में बंटी सैनी,
यो एक अर्ज़ लगावे से,
तू सबके संकट काटे मैया,
सबके काम बनावे से,
सुनले मेरी काली मैया,
तू सबके कष्ट मिटाजा,
मै हूं भक्त तेरा भोला भाला,
मैया दर्श दिखाजा।।

काली मैया मेरे घर में,
इक बारी तू आजा,
मै हूं भक्त तेरा भोला भाला,
मैया दर्श दिखाजा।।

Watch Video song of काली मैया मेरे घर में इक बारी तू आजा भजन लिरिक्स

Leave a Reply