Holi bhajan

holi bhajan radha krishna holi bhajan lyrics होली भजन लिरिक्स, होली भजन लिरिक्स इन हिंदी, radha krishna holi bhajan lyrics Holi Bhajan – कान्हा लिरिक्स holi bhajan,bhajan,holi bhajans,holi,best

मम्मी जाऊंगा बालाजी आया होली का त्यौहार भजन लिरिक्स

मम्मी जाऊंगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

स फागण का मस्त महीना,
चौड़ा होया फुल क सीना,
स देवों में देव नगीना,
बाबा बहोत बड़ा दातार,
मम्मी जाऊँगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

जावः भक्तां की टोली,
खेलं बाबा गेलयां होली,
ओली किस्मत होज्या सोली,
जब बाबा का बरसः प्यार,
मम्मी जाऊँगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

लयादे लाल धज्जा बणवाके,
गोटा बिमक भी लगवाके,
लाल लंगोटा दे सिमवाके तुं त,
क्युं कर री स वार,
मम्मी जाऊँगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

सारे नियम तुं समझादे,
मेंहदीपुर की राह बतादे,
चादर राम नाम की लयादे,
मम्मी मानुं कोनया हार,
मम्मी जाऊँगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

‘सुरजभान’ भक्त भी जावः,
उड़ै ‘कर्मबीर’ भी पावः,
‘कौशिक जी’ भजन सुणावः,
बरसः रंगों की बौछार,
मम्मी जाऊँगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

मम्मी जाऊंगा बालाजी,
आया होली का त्यौहार।।

होलिया में उड़े रे गुलाल श्याम तेरे मंदिर में भजन लिरिक्स

होलिया में उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में,
श्याम तेरे मंदिर में,
कानुड़ा तेरे मंदिर में,
होलिया मे उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में।।

रंग अबीर गुलाल उड़ाए,
कान्हा को सब रंग लगाए,
काले को कर दिया लाल,
श्याम तेरे मंदिर में,
होलिया मे उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में।।

फागुन की ग्यारस का मेला,
होता है ये बड़ा अलबेला,
भक्त नाचे दे दे ताल,
श्याम तेरे मंदिर में,
होलिया मे उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में।।

ढोलक चंग मजीरा बाजे,
भक्तो की टोली भी नाचे,
और गाए ये धमाल,
श्याम तेरे मंदिर में,
होलिया मे उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में।।

बाबा की शोभा अति न्यारी,
भक्त सुनावे सुने श्याम बिहारी,
रजनी हो जाएंगे निहाल,
श्याम तेरे मंदिर में,
होलिया मे उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में।।

होलिया में उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में,
श्याम तेरे मंदिर में,
कानुड़ा तेरे मंदिर में,
होलिया मे उड़े रे गुलाल,
श्याम तेरे मंदिर में।।

holi bhajan,holi song. 1

तुम झोली भर लो भक्तो रंग और गुलाल से भजन लिरिक्स

तुम झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से।

दोहा – राधा आई सखियाँ आई,
मोहन के संग ग्वाले,
वृन्दावन में सबने देखो,
तन मन है रंग डाले।

तुम झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से,
ये झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से।।

कोरा कोरा कलश मंगाकर,
उसमे रंग घुलवाना,
लाल गुलाबी नीला पीला,
केसर रंग मिलवाना,
बच बच के रहना उनकी,
टेढ़ी मेढ़ी चाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से,
ये झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से।।

लाएंगे वो संग में अपने,
ग्वाल बाल की टोली,
मैं भी रंग अबीर मलूँगी,
और माथे पर रोली,
गाएंगे फाग मिलके,
झिका खड़ताल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से,
ये झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से।।

श्याम पिया की बजे बसुरिया,
ग्वालो के मजीरे,
चंग बजावे ललिता नाचे,
राधा धीरे धीरे,
गाएंगे भजन सुहाणे,
हम भी सुरताल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से,
ये झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से।।

तुम झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से,
ये झोली भर लो भक्तो,
रंग और गुलाल से,
होली खेलांगा आपा,
गिरधर गोपाल से।।

होरी खेलूंगा डटके राधाकृष्ण होली भजन लिरिक्स

रंग बिरंगे रंग लाया हूँ,
राधे रानी मैं हटके,
होरी खेलूंगा डटके,
ना होरी खेलूं सांवरिया,
क्यों तूं अपना सिर पटके,
बात करो पीछे हटके,
होली खेलूंगा डटके।।

सब रे रंग है मेरे बढ़िया,
पीलो डलवाया केसरिया,
जिस पर भी तेरा दिल अटके,
होली खेलूंगा डटके,
अरे बात करो पीछे हटके।।

कच्चे पक्के रंग है तेरे,
कपड़े हे जाएं भदरंग मेरे,
बिगड़े मोती घूंघट के,
बात करो पीछे हटके,
होली खेलूंगा डटके।।

आज नहीं छोडूंगा राधे,
करके आयो पक्के इरादे,
लायो रंग की कई मटके,
होली खेलूंगा डटके,
अरे बात करो पीछे हटके।।

बात हकीकत कहे ‘अनाड़ी’,
टूटी है तेरी पिचकारी,
आगे पीछे क्यों झटके,
बात करो पीछे हटके,
होली खेलूंगा डटके।।

रंग बिरंगे रंग लाया हूँ,
राधे रानी मैं हटके,
होरी खेलूंगा डटके,
ना होरी खेलूं सांवरिया,
क्यों तूं अपना सिर पटके,
बात करो पीछे हटके,
होली खेलूंगा डटके।।

Holi Bhajans and Holi Geet – List natakhat nand gopaal.

प्रेम से लगाओ रे गुलाल कान्हा को आज होली में लिरिक्स

प्रेम से लगाओ रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में,
कान्हा जी को होली में,
कान्हा जी को होली में,
धूम मचाओ रे धमाल,
कान्हा के संग होली में,
प्रेम सें लगाओं रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में।।

बरसाने से निकली टोली,
कान्हा संग खेलेंगे होली,
रंग देंगे कान्हा को आज,
देखो रे देखो होली में,
धूम मचाओ रे धमाल,
कान्हा के संग होली में,
प्रेम सें लगाओं रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में।।

ग्वाल बाल भी करे तैयारी,
बच ना पाए सखियाँ सारी,
छोड़ेंगे इनको ना आज,
देखो रे देखो होली में,
धूम मचाओ रे धमाल,
कान्हा के संग होली में,
प्रेम सें लगाओं रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में।।

बच ना पाओगे कान्हा हमसे,
रंगने का वादा है तुमसे,
कितना ही छुप लो रे आज,
देखो रे देखो होली में,
धूम मचाओ रे धमाल,
कान्हा के संग होली में,
प्रेम सें लगाओं रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में।।

राधा ने आवाज लगाई,
दौड्यो आयो कृष्ण कन्हाई,
प्रेम से रंग गई रे आज,
देखो रे देखो होली में,
धूम मचाओ रे धमाल,
कान्हा के संग होली में,
प्रेम सें लगाओं रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में।।

प्रेम से लगाओ रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में,
कान्हा जी को होली में,
कान्हा जी को होली में,
धूम मचाओ रे धमाल,
कान्हा के संग होली में,
प्रेम सें लगाओं रे गुलाल,
कान्हा को आज होली में।।

जुलम कर डारयो सितम कर डारयो भजन लिरिक्स

जुलम कर डारयो सितम कर डारयो,

दोहा – राधा आई सखियाँ आई,
लेकर रंग गुलाल,
काले रे काले कान्हा ने,
कैसो कर दियो लाल।

जुलम कर डारो सितम कर डारो,
काले ने कर दियो लाल,
जुलम कर डाल्यो।।

आयो नज़र मोहन मतवारो,
राधा जी कर्यो इशारो,
नैना सु कर्यो कमाल,
जुलम कर डाल्यो,
काले ने कर दियो लाल,
जुलम कर डाल्यो।।

सब घेर लियो ब्रजनारी,
नखरारी कामनगारी,
के चली गजब की चाल,
जुलम कर डाल्यो,
काले ने कर दियो लाल,
जुलम कर डाल्यो।।

काजल टिकी नथ ल्याई,
अंगिया साड़ी पहनाई,
मुखड़े पे मल्यो गुलाल,
जुलम कर डाल्यो,
काले ने कर दियो लाल,
जुलम कर डाल्यो।।

लियो पकड़ बिहारी कसके,
रंग दियो खुब हस हस के,
बोली फिर अइयो नंदलाल,
जुलम कर डाल्यो,
काले ने कर दियो लाल,
जुलम कर डाल्यो।।

जुलम कर डारो सितम कर डारयो,
काले ने कर दियो लाल,
जुलम कर डाल्यो।।

होली भजन और होली गीत – List

आयी जी होली हो जाओ तैयार म्हारा श्याम धणी सरकार लिरिक्स

आयी जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार,
हाथां में ल्यो पिचकारी,
कई बैठ्या करो विचार,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
रंग अबीर गुलाल,
आई जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार।।

रंग रंगीलो छैल छबीलो,
फागणियो हरषायो रे,
होली खेलन सांवरिया तेरी,
खाटू नगरी आयो रे,
झूमा नाचा चंग बजावा,
जमके करा धमाल,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
रंग अबीर गुलाल,
आई जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार।।

मोटा मोटा सेठ सांवरा,
शरणा तेरी आया रे,
तेरे नाम की मौजा मांगे,
तेरी छतर छाया रे,
देखो थाने रंगने खातिर,
उलट्यायो संसार,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
रंग अबीर गुलाल,
आई जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार।।

केसरिया केसरिया रे तेरो,
धाम हुयो केसरिया,
श्याम रंग में रंगी ‘उमा लहरी’,
को तू सांवरिया,
‘लहरी’ नैया तेरे भरोसे,
थामो जी पतवार,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
रंग अबीर गुलाल,
आई जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार।।

आयी जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार,
हाथां में ल्यो पिचकारी,
कई बैठ्या करो विचार,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
इतर सुगंध उड़ावा बाबा,
रंग अबीर गुलाल,
आई जी होली हो जाओ तैयार,
म्हारा श्याम धणी सरकार।।

होरी में लाज न कर गोरी होरी में भजन लिरिक्स

होरी में लाज न कर गोरी होरी में,
हां जी होरी में, हम्बे होरी में,
होरी मे लाज न कर गोरी होरी मे।।

हम ब्रज के रसिया तुम गोरी,
हम ब्रज के रसिया तुम गोरी,
हाँ हाँ रे रसिया,
ओ प्यारे रसिया,
हम ब्रज के रसिया तुम गोरी,
भली बनी है ये जोरि,
अरी भली बनी है ये जोरि होरी में,
होरी मे लाज न कर गोरी होरी मे।।

जो हमसो सूधो नाही खेले,
जो हमसो सूधो नाही खेले,
हाँ हाँ रे रसिया,
ओ प्यारे रसिया,
जो हमसो सूधो नाही खेले,
यार करेंगे बरजोरी,
हम यार करेंगे बरजोरी होरी में,
होरी मे लाज न कर गोरी होरी मे।।

नारायण अब निकसो द्वार पे,
नारायण अब निकसो द्वार पे,
हाँ हाँ रे रसिया,
ओ प्यारे रसिया,
नारायण अब निकसो द्वार पे,
छूटो नहीं बनके भोरी,
अरी छूटो नहीं बनके भोरी होरी में,
होरी मे लाज न कर गोरी होरी मे।।

होरी में लाज न कर गोरी होरी में,
हां जी होरी में, हम्बे होरी में,
होरी मे लाज न कर गोरी होरी मे।।

श्याम तेरे रंग में संग होली रंग में भजन लिरिक्स

श्याम तेरे रंग में,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

श्याम तूने ये कैसा रंगाया,
सबके मनवा में तू ही तू छाया,
रंग ये ना उतरे उसपे फागुन रुत रे,
जपूँ तेरी ही निश दिन माला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

श्याम चुपके से तूने रंगाया,
नही समझी मैं तेरी माया,
तेरे सपने रातो में,
छवि तेरी आँखो में,
तेरा मुखड़ा लगे भोला भाला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

श्याम काहे गुलाल लगाया,
तेरा लाल रंग मोहे भाया,
रंग ये ना छूटे,
जग चाहे छूटे,
मन मेरा हुआ रे मतवाला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

श्याम चुनरी भी तूने भीगाया,
हाए कितना रे मोहे सताया,
तेरी याद आए मोहे लाज आए,
कैसा जादू ये तूने कर डाला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

श्याम हाथ ना तेरे आऊं,
कही जाके दूर छुप जाऊँ,
राधे राधे तू कहे,
संग बंशी जो बजे,
फिर मनवा ना जाए संभाला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

श्याम तेरे रंग में,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला,
श्याम तेरे रंग मे,
संग होली रंग में,
सारी ब्रज की रंगी ब्रज बाला।।

होली भजन , होली भजन लिरिक्स, होली भजन लिरिक्स इन हिंदी, holi bhajan,
holi bhajan lyrics, holi bhajan lyrics in hindi,

This Post Has One Comment

Leave a Reply